पश्चिम बगाल – क्या सच हो रही प्रशांत किशोर की भविष्यवाणी, क्या ममता का नारा “खेला होबे…..” हो रहा है पूरा, टीएमसी 192, तो भाजपा 95 सीट पर आगे, पढ़े पूरी समीक्षा

तारिक़ आज़मी

डेस्क. वैसे तो भाजपा ने अपनी पूरी ताकत पश्चिम बंगाल में झोक रखा था। प्रधानमन्त्री से लेकर गृहमंत्री तक ने काफी कैम्पेन किया। टीएमसी से काफी नेताओं को भाजपा ने अपनी बाहे फैला कर उनका स्वागत किया। मीडिया के एंकरों ने अपना कटाक्ष जारी रखा था और टीएमसी को टूटती हुई पार्टी बता रहे थे। आज सुबह जब काउंटिंग शुरू हुई और पोस्टल बैलेट की गिनती शुरू हुई तो उछल कूद मचा कर स्टूडियो में खेला होगे कर रहे थे और भाजपा की कड़ी टक्कर दिखा रहे थे। अचानक खामोश हो चुके है।

पश्चिम बंगाल में ममता के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने तो चुनावों के पहले ही भविष्यवाणी कर दिया था कि अगर भाजपा 100 सीट से ऊपर जाएगी तो मैं अपने ये काम छोड़ दूंगा। अभी तक आये रुझानो को देखे तो शायद प्रशांत किशोर की भविष्यवाणी सच हो रही है। अभी तक आये रुझान कहते है कि ममता दीदी के नारे “खेला होबे……” ने काम कर दिया है। अभी तक आये चुनावी रुझानो को अगर देखे तो टीएमसी ने 192 सीट पर बड़ी बढ़त बना रखा है। वही भाजपा जो शुरूआती पाहले राउंड में 120 सीट पर आगे चल रही थी सिमट कर अब 95 सीट पर आगे है।

इस दरमियान कांग्रेस जिसने कही न कही पश्चिम बंगाल में टीएमसी को वाकओवर दिया है 5 सीट पर बढ़त बनाये हुवे है। टीएमसी की एक क्लियर जीत जो शायद पश्चिम बंगाल में पहली जीत होगी सबसे बड़ी जीत रहेगी। वह है फरहाद हाकिम की जीत। एक बड़ी बढ़त लगभग 20 हज़ार से अधिक मतो से फरहाद हाकिम बढ़त बनाये हुवे है।

इस चुनावों रुझानो में आपको आपके पसंदीदा चैनल के न्यूज़ एंकर बता रहे है और जोरो शोर से चाचा कर रहे है कि क्या ममता चुनाव नंदीग्राम से हार जाएगी। मगर कोई अन्दर कि इनसाइड स्टोरी नही बता रहा है। नंदीग्राम सुबेंधू अधिकारी की कर्मभूमि रही है। ममता बनर्जी ने शुबेंधू अधिकारी को उनके ही गढ़ में घुस कर हारने का बड़ा फैसला काफी सोच समझ कर लिया। अगर ये चुनाव शुबेंधू अधिकारी हार जाते है तो कही न कही उनका पोलिटिकल करियर खत्म हो जायेगा। यहाँ ध्यान दिलाते चले कि शुबेंधू अधिकारी ममता के काफी करीबी नेता हुवा करते थे और उनको अपना राजनैतिक गुरु मानते थे।

अब वापस अगर वोट की ऊपर बात करे तो नंदीग्राम 2 और नदीग्राम 1 में तकसीम है। अभी नंदीग्राम ब्लाक 2 की गिनती शुरू हुई है जिसमे शुबेंधू अधिकारी 9 हज़ार के करीब मतो से आगे चल रहे थे। अब वही नंदीग्राम 1 का वोट खुलना बाकी है जो मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र है। अभी नंदीग्राम 2 से ही ममता ने वापसी करते हुवे शुबेंधू अधिकारी के लीड को कम करके महज़ 4 हज़ार के करीब कर दिया है।

इस दरमियान भाजपा के बड़े धक्के को शायद आपका पसंदीदा चैनल नही दिखा रहा है। चलिए हम आपको बताते है कि भाजपा के तीन बड़े नेता इस समय बड़े वोटो से पीछे चल रहे है। सांसद बाबुल सुप्रियो, के साथ लाकेट चटर्जी और स्वप्न दस गुप्ता जैसे भाजपा के बड़े चेहरे चुनावों में पीछे चल रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *