राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संगठन के सदस्यों ने काली पट्टी बाँध कर जताया विरोध

अजीत कुमार

प्रयागराज. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संगठन के प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर मयंक प्रताप सिंह और महामंत्री डॉक्टर मोहम्मद इस्लाम के नेतृत्व में दिनांक 15 एवं 16 जुलाई को काली पट्टी बांधकर संगठन के सदस्यों ने सांकेतिक विरोध दर्ज करवाया.

उन्होंने बताया कि इसी क्रम में दिनांक 17 जुलाई से जुलाई तक 2 घंटे का काली पट्टी बांधकर कार्य बहिष्कार किया जाएगा. अगर हमारी मांगे नहीं मानी गई तो 26 जुलाई को मिशन निदेशक कार्यालय उत्तर प्रदेश का पूरे प्रदेश के संविदा कर्मचारी लखनऊ में इकट्ठा होकर कार्यालय का भैरव करेंगे।

उन्होंने अपनी मांगो के सम्बन्ध में बताया कि हमारी मांगे है कि

  • स्थानांतरण नीति को बहाल करें
  • वेतन विसंगति बहाल करें जबकि भारत सरकार इसके लिए 3% का अतिरिक्त बजट पिछले 16 सालों से दे रही है।
  • आउटसोर्सिंग नीति खत्म करें
  • कई सालों से कार्य कर रहे संविदा कर्मचारियों को पी ई टी (PET)परीक्षा से मुक्त रखें।
  • 25 %परसेंट कोविड-19 प्रोत्साहन राशि परमानेंट की तरह संविदा कर्मचारियों को भी मिले


Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *