लखीमपुर खीरी काण्ड : आशीष मिश्रा मोनू को लेकर घटना स्थल पहुची पुलिस, हो रहा सीन रीक्रियेशन

फारुख हुसैन

लखीमपुर खीरी (पलिया). लखीमपुर खीरी के तिकुनिया हिंसा मामले में तेज़ी से जांच करते हुए पुलिस ने गुरुवार सुबह जेल में बंद तीन आरोपियों अंकित दास, गनर लतीफ उर्फ काले और ड्राईवर शेखर भारती को रिमांड पर लेकर क्राइम ब्रांच के दफ्तर लाई। वहां आशीष मिश्र मोनू को पहले से ही रखा गया था। कुछ देर बाद पुलिस लखीमपुर खीरी तिकोनिया कांड के मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा व अंकित दास सहित चार लोगों को घटनास्थल पर लेकर पहुंची. पुलिस ने मुख्य आरोपी आशीष मिश्र, अंकित दास, गनर लतीफ और ड्राइवर शेखर भारती को घटनास्थल पर ले जाकर सीन रिक्रिएशन किया।

वही दुसरे तरफ तिकुनियां कांड के 11 दिन बाद सदर विधायक योगेश वर्मा ने मामले में पुलिस पर सवाल उठाए हैं। इससे पहले 9 अक्टूबर को वह मुख आरोपी आशीष मिश्र को लेकर क्राइम ब्रांच के दफ्तर पहुंचे थे। पुलिस द्वारा हिंसा के दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं के मारे जाने के मामले में केस दर्ज न करने को लेकर गुरुवार को वर्मा ने कहा कि हमारे भी कार्यकर्ता उस दिन आताताइयों द्वारा मारे गए। क्या वो किसान नहीं थे? उनके परिवारों में भी रोष है।

बहरहाल, आज एसआईटी लखीमपुर खीरी में मंत्री के आरोपी बेटे और उसके दोस्तों को स्पॉट पर लेकर पहुंची. एसआईटी टीम के साथ लखनऊ से आई हुई फॉरेंसिक टीम भी स्पॉट पर जांच कर रही है. बताया जा रहा है कि क्राइम स्पॉट पर आरोपियों को ले जाकर सीन रीक्रिएशन कर, घटना वाले दिन वाले जैसा माहौल बनाया गया. रीक्रिएशन के वक्त घटनास्थल पर मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद थे. कई थानों की पुलिस बल के साथ पीएससी आरएएफ भी घटनास्थल पर मौजूद थे. वही मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा सहित चार आरोपियों को क्राइम स्पॉट पर मौजूद रहे।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *