ललितपुर सामूहिक बलात्कार प्रकरण : रेप पीडिता की पहचान उजागर करने के मामले में 250 लोगो पर मुकदमा हुआ दर्ज, बलात्कार मामले में दो गिरफ्तार

आदिल अहमद

कानपुर। ललितपुर निवासी एक किशोरी ने मंगलवार को सपा-बसपा जिलाध्यक्ष समेत 28 लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों में एक पीडिता का पिता और दसरा सपा जिलाध्यक्ष का भाई है। इस दरमियान सपा इस मामले में सीबीआई जांच की माग कर रही है। जिसके तहत कल बुधवार को झांसी के सपा जिलाध्यक्ष महेश कश्यप ने सपाइयों के साथ पैदल मार्च निकाला था।

सपा नेताओं ने इस पैदल मार्च के बाद डीएम और एसपी को ज्ञापन भी सौपते हुवे प्रकरण में सीबीआई जांच की मांग किया है। इस दरमियान आरोप है कि सपाइयों ने पीड़िता की पहचान उजागर कर दी, जिसके चलते झांसी के सपा जिलाध्यक्ष महेश कश्यप समेत 250 लोगों के पुलिस ने मुकदमा लिखा है। साथ ही इन सभी पर धारा 144 के उल्लंघन का भी आरोपी बनाया गया है। इस पूरे घटनाक्रम से ललितपुर की सियासत गरमाई हुई है। गौरतलब हो कि मंगलवार को थाना कोतवाली में एक किशोरी ने अपने पिता, चाचा, ताऊ के अलावा सपा और बसपा के नेताओं समेत 28 लोगों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया था। बुधवार को सुबह इसकी खबर लगते ही जिले की सियासत में उबाल आ गया। इन लोगों का कहना है कि एक साजिश के तहत फंसाया जा रहा है।

वहीं, दूसरी तरफ बसपा की ओर से भी प्रशासन के समक्ष यही मांग रखी गई। इसी बीच शाम को मजिस्ट्रेट के समक्ष पीड़ित किशोरी के बयान दर्ज किए गए। सुरक्षा के लिए किशोरी के घर पर पुलिस तैनात कर दी गई है। पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास तेज कर दिए हैं।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *