लखनऊ पुलिस से मुठभेड़ में तीन डकैत गिरफ्तार, वाराणसी में हुई घटनाओं का भी हो सकता है सफल खुलासा

ए जावेद संग अनुराग पाण्डेय (इनपुट : शाहरुख़)  

लखनऊ. गुजिस्ता रात यानी इतवार के रात को प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर के निकट चिनहट थाना क्षेत्र में पुलिस और बदमाशी के बीच हुई मुठभेड़ में 3 शातिर डकैतों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार अभियुक्तों के 5-6 साथी भागने में सफल हुवे है. पुलिस फरार बदमाशो की तलाश में दबिश दे रही है. इस मुठभेड़ में दो बदमाशो को जहा गोली लगी है वही एक पुलिस कर्मी भी घायल हुआ है. इस मुठभेड़ के दरमियान भाग रहे एक बदमाश को पुलिस ने दौड़ा कर पकड़ लिया है. घायल पुलिस कर्मी की हालात खतरे से बाहर बताई जाती है.

मिली जानकारी के अनुसार यह एक बांग्लादेशी डकैती गिरोह है। यह गिरोह बांग्लादेश से डकैती के उद्देश्य से आता है और फिर वापस चला जाता है। घायल दोनों बदमाशों के नाम रुबईल और अलमिन हैं। दौड़ाकर पकड़े गए बदमाश का नाम रुबेल है। जबकि घायल सिपाही का नाम रिंकू बताया जा रहा है. डीसीपी पूर्वी संजीव सुमन ने घटना से जुड़ी जानकारी मीडिया से साझा किया है.

उन्होंने कहा कि ‘बाराबंकी सीमा से सटे चिनहट के मल्हौर में बदमाशों की योजना बना डकैती करने की सूचना हमें मिली थी, जिसके बाद देर रात पुलिस की टीम उस जगह पहुंची। उन्हें 8-10 बदमाश नज़र आए। उन्होनें पुलिस को देखते ही फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने जवाबी फायरिंग की जिसके चलते दो बदमाशों के पैर में गोली लगी। एक बदमाश को हमने दौड़ाकर पकड़ लिया। हाल ही में 8 अक्टूबर को भी बदमाश डकैती के इरादे से एक घर में घुसे थे, लेकिन सूचना मिलते ही तत्काल पुलिस फ़ोर्स के आने जाने के चलते बदमाश वहां से भाग गए थे।”

डीसीपी संजीव सुमन ने जल्द ही बदमाशों के ठिकानों का पता लगा उनके पूरे गिरोह को पकड़ने की बात कही है। पुलिस गिरफ्तार बदमाशो से पूछताछ कर रही है. वही वाराणसी पुलिस भी इन बदमाशो से पूछताछ करने जाने की तयारी किया है. ऐसी उम्मीद किया जा रहा है कि इन बदमाशो की गिरफ़्तारी के बाद से वाराणसी में हुई घटनाओं का भी खुलासा हो सकता है. विशेष रूप से रोहनिया थाना क्षेत्र में बुज़ुर्ग को बंधक बना कर डकैती की घटना का खुलासा होने की उम्मीद है.



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *