शादी में लगा था आर्केस्ट्रा, बाराती बोले पहले हम नाचेगे, ग्रामीण बोले हमे भी नाचना है, बस हो गई ढिशुम ढिशुम ज़बरदस्त वाली, रुक गई शादी सुबह पुलिस ने करवाया शादी

ए0 जावेद (एडिटेड : तारिक़ आज़मी)

वाराणसी। दरवाज़े पर बारात आ चुकी थी। शादी में आर्केस्ट्रा का भी इंतज़ाम था। अब आर्केस्ट्रा है तो डांस तो बनता ही है। बाराती अलग डांस कर रहे थे तो ग्रामीणों में भी कुछ डांस कर रहे थे। इसी डांस के दौरान आपस में पहले विवाद होने लगा। विवाद बढ़ गया तो आसपास के कुछ ग्रामीण भी आ गये। फिर हो गई जमकर ढिशुम ढिशुम। जमकर घुसे, लात, थप्पड़ के साथ डंडे और लाठियां भी भजने लगी।

इस दरमियान दुल्हे राजा भी दो चार लाठी खाकर घायल हो गए, उनके दोस्त और भाई सहित कई बाराती घायल हो गये। शादी रुक गई। घायल बरातियो के इलाज का ज़िम्मा मिला दुल्हे के चाचा को। चाचा जी ने घायलों का इलाज करवाया। कई बाराती घायल हो गए थे। आज बुद्धवार सुबह होने पर दुल्हे के चाचा ने पुलिस को तहरीर देकर 8 नामज़द और कई अज्ञात के खिलाफ तहरीर दिया। पुलिस ने रात में होने वाले फेरे और शादी सुबह खुद खड़े होकर करवाई। शादी के रंग में भंग पड़ चूका था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने की कार्यवाही शुरू कर दिया है।

मामला वाराणसी के बड़ागांव थाना क्षेत्र के गोकुलपुर गांव का है। मिली जानकारी और पुलिस के अनुसार, वाराणसी के कपसेठी थाना क्षेत्र के शिवदासपुर गांव निवासी राजेंद्र कुमार के पुत्र रणवीर चंद्रा की शादी बड़ागांव थाना क्षेत्र के गोकुलपुर गांव निवासी हृदय नारायण की पुत्री पूजा से 23 नवंबर को शादी होनी थी। मंगलवार की शाम बरात दुल्हन के घर पहुंची। द्वार पूजा के समय बराती डीजे पर नाच रहे थे। इसी दौरान गांव वालों से उनका विवाद हो गया। उस समय लोगों ने समझा-बुझाकर मामला शांत करा दिया।

देर रात मंडप में शादी के दौरान चल रहे ऑर्केस्ट्रा के कार्यक्रम में गांव के कई लोग लाठी-डंडे से बरातियों को पीटने लगे। मारपीट में दूल्हे के सिर में चोट लगने से वह गंभीर रूप से घायल हो गया। साथ ही उसका भाई अशोक कुमार, चाचा महेंद्र कुमार, पवन राज, रत्नेश और अनिल सहित कई बराती घायल हो गए। अफरा-तफरी के बीच शादी रुक गई। घायलों का इलाज कराने के बाद दूल्हे के चाचा ने मुकदमा दर्ज कराया।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *