एसीपी दशाश्वमेघ अवधेश पाण्डेय का मास्टर स्ट्रोक आईडिया आया काम, बेनिया तिराहे पर नहीं लगता अब जाम

ए0 जावेद

वाराणसी। वाराणसी पुलिस कमिशनर सतीश गणेश लगातार प्रयासरत है कि वाराणसी को जाम के झाम से मुक्ति दिलवाए। उनके इस प्रयास में वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस और ट्रैफिक पुलिस रोज़ नई कवायद कर रही है और इसमें उनको काफी हद तक सफलता भी प्राप्त हुई है। वाराणसी के जाम की एक बड़ी समस्या बेनियाबाग तिराहा भी है। अतिव्यस्त इस तिराहे पर अक्सर ही जाम लग जाता था। पिछले सप्ताह एसीपी दशाश्वमेघ अवधेश कुमार पाण्डेय जो अक्सर खुद सडको पर उतरकर अपने मातहतो सहित यातायात नियंत्रित करते रहते है, के द्वारा दिला आईडिया बेनिया तिराहे को जाम के झाम से निकालने में कारगर साबित हुआ।

एसीपी दशाश्वमेघ अवधेश कुमार पाण्डेय पिछले सप्ताह गौदोलिया से यातायात नियंत्रित करते हुए बेनिया तिराहे पर पहुँच गये थे। वहां उन्होंने देखा कि ऑटो और टोटो चालक मुख्य तिराहे पर स्थित पानदरीबा चौकी के सामने सड़क पर अपना वाहन लगा कर सवारी भरने लगते है। जो जाम का अक्सर मुख्य कारण बन जाता है। ये देख कर अवधेश कुमार पाण्डेय ने पानदरीबा चौकी इंचार्ज अजय कुमार शुक्ल को यहां ऑटो और टोटो के लिए नो वेंडिंग ज़ोन बनाने और उसको सख्ती के साथ लागू करने की सलाह दिया।

एसीपी दशाश्वमेघ का ये आईडिया वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट के चेतगंज थाना क्षेत्र में आने वाले पानदरीबा चौकी इंचार्ज अजय कुमार शुक्ल को भी काफी भाया। उन्होंने तुरंत एक फ्लैक्स का निर्माण करवा कर यहां सड़क किनारे लगवाया और बेनियाबाग तिराहे के निकट इसको प्रदर्शित किया और आदेश की अवहेलना करने पर कड़ी कार्यवाही करने की सभी को चेतावनी दिया। जिसका नतीजा ये हुआ कि अब वहां ऑटो और टोटो नहीं खड़े होते है जिसके कारण इस इलाके को जाम के झाम से फंसने से छुटकारा मिल गया। आखिर एसीपी दशाश्वमेघ अवधेश कुमार पाण्डेय का आईडिया काम आ गया।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *