फाइनेंसर की प्रताड़ना के शिकार पीड़ित ने लगाई फांसी

सरताज खान

गाजियाबाद (लोनी)। अंजलि बिहार कॉलोनी में रहने वाले एक युवक ने फाइनेंसर द्वारा जान से मारने व उसकी पत्नी के साथ रात बिताने की धमकी से तंग आकर फांसी लगा कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने मौके से मृतक द्वारा हस्ताक्षरित सुसाइड नोट बरामद किया है। जिसमें मृतक ने अपनी आत्महत्या का कारण फाइनेंसर द्वारा प्रताड़ित करना बताया है। पुलिस ने शव को कब्जे में कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया।

पुलिस मृतक की पत्नी द्वारा नामजद कराए फाइनेंसर की तलाश में जुटी है। लोनी की अंजलि विहार कॉलोनी में रहने वाले मोहित की पत्नी के मुताबिक उसका पति दिल्ली में टूर एंड ट्रेवल्स का कार्य करता था। जिसने अपना धंधा आगे बढ़ाने के लिए करीब 7 माह पूर्व उस्मानपुर, दिल्ली निवासी अजय गुर्जर नामक फाइनेंसर से 50 हजार का फाइनेंस कराया था, जो उसे 6 माह में वापस लौटाने थे। मोहित समय-समय पर 80 हजार रुपये लौटा चुका था। मगर इसके उपरांत भी अजय फाइनेंसर अपना 1 लाख 20 हजार रूपये ब्याज का बकाया बता रहा था।

पति द्वारा मना करने पर अजय उसके साथ गाली-गलौज व जान से मारने की धमकी देने के अलावा मेरे साथ (मृतक की पत्नी) रात बिताने की बात करता था। जिसके चलते मोहित मानसिक रूप से पीड़ित रहने लगा था। जिसने 1 दिसंबर को भी पैसों का तकाजा किया और नहीं लौटाने पर गाली-गलौज करते हुए मेरे साथ रात बिताने की बात दोहराई। आखिर तंग होकर दोपहर के लगभग 1:30 बजे जब वह किसी काम से घर से बाहर गई हुई थी।

मेरे पति मोहित ने गले में चद्दर बांधकर छत में लगे पंखे की मदद से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जिसने इससे पूर्व अजय गुर्जर द्वारा प्रताड़ित करने पर आत्महत्या करने संबंधी सुसाइड नोट छोड़ा है। यही नहीं इसके बाद भी अजय गुर्जर का फोन आने पर जब उसे घटना की जानकारी दी, उसने पैसे लौटाने का दबाव बनाते हुए जान से मारने की धमकी दी है। पीड़िता ने थाने पर लिखित तहरीर देते हुए आरोपी के विरुद्ध आवश्यक कार्यवाही करने की बात कही है।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *