बेटो ने अपने पिता को मार दफना दिया लाश ज़मीन में और फंसा रहे थे अपने चाचा को, ऐसे खुला राज़……

तख्शीर हुसैन

मुज़फ्फरनगर: बदले की भावना में जल रहे भतीजो ने अपने चाचा को फंसाने के लिए ऐसी साजिश रची कि इंसानियत भी शर्मसार हो गई है। बेटो ने अपने बाप का क़त्ल करके लाश को ज़मींन में दफना दिया और उसके ऊपर बाजरे की बुआई महज़ इस मकसद से कर डाला ताकि वह अपने चाचा को फंसा सके। मामले में पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ किया तो प्रकरण खुल कर सामने आया। मामले में सच्चाई जिसने भी सुना उसने लानत ऐसी औलादों पर भेजा।

मामला मुज़फ्फरनगर का है जहा हड़ौली गांव निवासी कंवरपाल (70) जून माह में संदिग्ध हालात में गायब हो गया था। बेटों ने भौराकलां थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। कवरपाल के बेटो ने पूरा शक अपने चाचा के ऊपर जताया था कि उन्होंने उसके पिता को गायब कर दिया है। दूसरी तरफ पुलिस सभी कड़ीयो को जोड़ चुकी थी मगर मामले में सफलता पुलिस के हाथ नही लग रही थी। आखिर में पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो सनसनीखेज खुलासा हुआ। मृतक के बेटे उपेंद्र और विक्की ने 28 जून को ही खेत में गला दबाकर अपने पिता की हत्या कर दी थी। जिसके बाद शव को अपने खेत में ही गड्ढा खोदकर दबा दिया। तीन दिन पहरेदारी करते रहे, इसके बाद जहां पिता के शव को गाड़ा गया था, वहीं पर बाजरे की फसल की बुआई कर दी।

आज शुक्रवार को पुलिस हड़ौली के जंगल में पहुंची, पहले चारा कटवाया और इसके बाद जेसीबी से जमीन की खुदाई कराई। करीब छह फीट नीचे से शव बरामद हो गया। पुलिस ने दोनों बेटों का गिरफ्तार कर लिया है। सीओ फुगाना शरद चंद्र जोशी ने बताया कि पूछताछ में पता चला है कि बेटों ने ही अपने पिता की हत्या की थी। इस मामले में अग्रिम विधिक कार्यवाही चल रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.