पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर हुआ दर्दनाक हादसा, 4 की मौत

तौसीफ अहमद

सुल्तानपुर: आज शुक्रवार की दोपहर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर दर्दनाक हादसा हुआ। कंटेनर और बीएमडब्ल्यू कार की आमने-सामने ज़ोरदार टक्कर होने से दर्दनाक हादसा हुआ। हादसे में 4 लोगो की मौके पर ही मौत हो गई। कंटेनर का चालक हादसे के बाद फरार हो गया। जानकारी के अनुसार कार सवार बिहार के रहने वाले हैं। तीन मृतकों की शिनाख्त हो चुकी है, जबकि एक शव की पहचान नहीं हो सकी है। सूचना के बाद डीएम और एसपी भी मौके पर पहुंचे और घटना स्थल की जांच की।

बताते चले कि पिछले 6 अक्टूबर की रात हलियापुर के पास माइल स्टोन 83 किमी. पर पूर्वांचल एक्सप्रेसवे अचानक धंस गया था। यूपीडा ने गड्ढे को भरवाकर उधर से बड़े वाहनों का आवागमन रोक दिया था। तब से एक ही लेन से अप और डाउन दोनों वाहनों को निकाला जा रहा था। शुक्रवार को अपराह्न करीब साढ़े तीन बजे एक कंटेनर अपने दाहिने की लेन से निकल रहा था। इसी बीच सामने से आ रही बीएमडब्ल्यू कार से उसकी आमने-सामने भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि कार के परखच्चे उड़ गए और कंटेनर का अगला हिस्सा टूटकर दूर जा गिरा। हादसे में कार सवार 4 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई।

सूचना मिलते ही डीएम रवीश गुप्ता, एसपी सोमेन बर्मा, एसडीएम वंदना पांडेय, सीओ बल्दीराय राजाराम चौधरी, यूपीडा के कंट्रोल रूम प्रभारी ओपी सिंह भी मौके पर पहुंच गए। कार में मिले मोबाइल व कागजात के आधार पर शवों की शिनाख्त आनंद प्रकाश (35) पुत्र डॉ0 निर्मल सिंह निवासी डेहरी ओनसोन बिहार, अखिलेश सिंह (35) पुत्र अज्ञात निवासी औरंगाबाद बिहार, दीपक कुमार (37) पुत्र अज्ञात निवासी औरंगाबाद बिहार के रूप में हुई जबकि एक शव की पहचान नहीं हो सकी। डीएम ने बताया कि बीएमडब्ल्यू कार मालिक जिंदल पब्लिक स्कूल ताली रिवनी मझानी रानीखेत अलमोडा उतराखंड का है। ये सभी बिहार से दिल्ली अपने दोस्त के यहां जा रहे थे। कंटेनर मालिक कयूम पुत्र आयुब निवासी मोहल्ला मनिहारन निकट राजा मस्जिद थाना भोजपुर जिला मुरादाबाद का बताया जा रहा है। पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।

दुर्घटना स्थल पर पहुंचे डीएम ने बताया कि प्रथम दृष्टया जांच में पाया गया है कि बीएमडब्ल्यू कार की रफ्तार काफी तेज थी। फिलहाल पूरे मामले की जांच की जा रही है। यूपीडा के कंट्रोल रूम प्रभारी ओपी सिंह ने बताया कि हादसे की जांच शुरू कर दी गई है। हादसे के बाद अधिकारियों ने कंटेनर का ताला खुलवाकर जांच की। जांच में पाया गया कि उसके अंदर मवेशियों को लादने के लिए पटरा लगाया गया था। पशु तस्कर इसी तरह से मवेशियों को लादकर गैंर प्रांत ले जाते हैं।

दुर्घटना के बाद कंटेनर से तीन लोग कूद कर हलियापुर की ओर पैदल ही भागते देखे गए। दुर्घटना के वक्त मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों ने घटना स्थल की जांच करने पहुंचे अधिकारियों को इसकी जानकारी दी। जानकारी के बाद हलियापुर थाने की पुलिस ने क्षेत्र में भागने वाले लोगों की खोजबीन शुरू कर दी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.