मनबढ़ शराबियो द्वारा भाजपा नेता की बेरहम हत्या प्रकरण: नगर निगम चौकी इंचार्ज सहित कई सस्पेंड, प्रकाश सिंह को मिला प्रभार

शाहीन बनारसी

वाराणसी: वाराणसी में सिगरा थाना क्षेत्र के जयप्रकाश नगर में कल बुधवार रात भाजपा नेता पशुपति नाथ सिंह की शराबियो के द्वारा पीट-पीट कर बेरहम हत्या के बाद वाराणसी पुलिस कमिश्नर ए0 सतीश गणेश ने घटना में लापरवाही बरतने के आरोप में नगर निगम चौकी प्रभारी नीरज ओझा को सस्पेंड कर दिया है। उनके जगह पर प्रकाश सिंह को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है।

नीरज ओझा सहित दरोगा ललित कुमार पांडेय, हेड कांस्टेबल देवी यादव, अनूप राय, मोहन यादव और कांस्टेबल राम अवतार, नितिन, सुधांशु व दिनेश को इस मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। इस कार्रवाई के बाद महकमे में हड़कंप मच गया है।

मिल रही जानकारी के अनुसार पुलिस ने देर रात घटना में नामजद बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ की जा रही है। सस्पेंशन की कार्यवाही भाजपा नेता की शिकायतों को नजरंदाज करने और घटना के दौरान लापरवाही बरतने के आरोप में की गई है।

बताते चले कि वाराणसी में बुधवार रात भाजपा नेता पशुपति नाथ सिंह की मनबढ़ शराबियो ने लाठी-डंडे व रॉड से मारकर हत्या कर दी। वारदात सिगरा जैसे पॉश इलाके के जयप्रकाश नगर मोहल्ले में हुई है। शराब पीकर झगड़ा करने वालों को टोकने वाले भाजपा नेता पशुपति नाथ सिंह ने जयप्रकाश नगर और आसपास के इलाकों में सक्रिय मनबढ़ युवकों के गैंग की शिकायतें पुलिस तक पहुंचाई थी। मई से सितंबर के बीच शराब ठेके के बाहर इस गैंग के उपद्रव की तस्वीरों को भी उन्होंने कैंट विधायक सौरभ श्रीवास्तव को भेजी थी।

विधायक ने भी पुलिस को इसकी शिकायत कर कार्रवाई के लिए कहा था। मगर, पुलिस ने शिकायतों को नजरअंदाज किया और अंत में इस लापरवाही की कीमत भाजपा नेता पशुपतिनाथ को जान देकर चुकानी पड़ी। उधर, बुरी तरह जख्मी उनका बेटा बीएचयू ट्रॉमा सेंटर में भर्ती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.