150 से ज्यादा वाहनों को चुरा कर नेपाल बेचने वाला कम्मू चढ़ा पुलिस के हत्थे

फारुख हुसैन 
पलिया कलां (लखीमपुर): नेपाल बार्डर से
सटे इस इलाके में आटोलिफ्टर गैंग हावी रहता है। बाइकों की चोरी न सिर्फ इस
जिले में होती है बल्कि आस पास के जिलों से गाड़ियों को चोरी कर आटोलिफ्टर
गैंग के लोग उसे बड़ी आसानी से सीमा पार कर नेपाल पहुंचा देते हैं। इसी तरह
के एक गिरोह के दो सदस्यों को कोतवाली पुलिस ने पकड़ा है। इनमें से एक शातिर
बदमाश है, जिस पर दो हजार रुपये का ईनाम भी घोषित है। उसने अकेले ही 150
बाइक को नेपाल ले जाकर बेचने की बात पुलिस के सामने कबूल भी की है। पकड़ा
गया आटोलिफ्टर गैंग का सदस्य ग्राम अंबेडकरनगर का विपिन उर्फ कम्मू पुत्र
राजनाथ है। संग में इसी गांव का संजीव उर्फ टंडिया पुत्र सुरेश चंद्र भी
पकड़ा गया है। इन्हें मुखबिर की सूचना पर बुधवार रात एसओ वीके ¨सह की अगुवाई
में गठित टीम ने पटिहन से धर दबोचा। इन दोनों ने पुलिस को तमंचा दिखाकर
वहां से भागने की कोशिश की। एसओ के मुताबिक दोनों को दो किमी तक दौड़ाने के
बाद दबोच लिया गया।
150 बाइक नेपाल ले जाकर बेची
पुलिस
पूछताछ में विपिन उर्फ कम्मू ने बताया कि उसने अब तक 150 से ज्यादा बाइकों
को चोरी करने के बाद उसे नेपाल ले जाकर बेच दिया। उसके साथ में इसी इलाके
के और भी लोग गैंग के सदस्य थे। हालांकि आटोलिफ्टर गैंग का लीडर अब तक
पुलिस की पकड़ में नहीं आया है। एसओ के मुताबिक गैंग के प्रमुख सदस्यों यानि
कम्म और संजीव को पकड़ने से पहले अमरजीत को भी जेल भेजा जा चुका है। अब इस
गैंग के दो अन्य लोगों को पकड़ने के लिए जाल बिछाने की तैयारी कर ली गई है।
जल्द ही उन्हें भी पकड़ा जाएगा।
कई थानों में दर्ज हैं मुकदमे
विपिन
के खिलाफ न सिर्फ पलिया में बल्कि लखीमपुर और फरधान में भी मुकदमे दर्ज
हैं। उसकी खोजबीन दोनों जगहों की पुलिस कर रही थी। वह सात महीने से फरार चल
रहा था, जिसे अब पुलिस ने पकड़ लिया। इसी वजह से उस पर दो हजार रुपये का
इनाम भी घोषित किया गया था। उसके खिलाफ अलग-अलग थानों में 11 मुकदमे दर्ज
हैं।
नहीं मिली कोई चोरी की बाइक
पुलिस
ने कम्मू को 2014 में भी चोरी की बाइकों के साथ पकड़ा था। इस बार जब उसे
पकड़ा गया तो उससे कोई चोरी की बाइक बरामद नहीं हो सकी। माना जा रहा है कि
वह राजस्थान बाइकों की चोरी के सिलसिले में ही जाने वाला था। हालांकि पलिया
क्षेत्र में हाल फिलहाल हुई बाइक चोरी की घटनाओं में वह शामिल था या नहीं
इस बारे में पुलिस कुछ नहीं बता पा रही। अभियुक्त के पास से तमंचा और
कारतूस बरामद हुए है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.