29 जून से शुरू हो रही है अमरनाथ यात्रा सभी तैयारियां पुर्ण

समीर मिश्रा. नई दिल्ली/जम्मू कश्मीर

अमरनाथ यात्रा 29 जून से शुरू होने वाली है। यह यात्रा 7 अगस्त तक चलेगी। यात्रा से पहले शिव भक्तों के लिए एक अच्छी खबर है। बाबा बर्फानी का आकार इस साल पिछले साल के मुकाबले ज्यादा बड़ा है। पवित्र गुफा और शिवलिंग का गेट अभी बंद है।

लिहाजा बाबा बर्फानी के फोटो नहीं खीचें जा सके लेकिन हम आपको यात्रा मार्ग पर हो रही तैयारियों, सुरक्षा के इंतजाम और मौसम सहित तमाम ऐसी जानकारी उपलब्ध करवाने जा रहे हैं जो यात्रा के दौरान आपके काम आएंगी। इस साल 2 लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाई है और यात्रा मार्ग पर करीब 150 लंगर लगाने की व्यवस्था की गई है। अधिकतर सीढिय़ों पर 3.3 फुट बर्फ जमी हुई है। संगम से गुफा तक ज्यादातर बर्फ से ढका हुआ है जिसको हटाने का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है। गुफा तक भक्तों के लिए नए रास्ते भी बनाए जा रहे हैं।

हैलीकॉप्टर किराया
नीलगढ़ से पंचतरणीक्व-1715 
पहलगाम से पंचतरणीक्व- 2950 
खच्चर किराया- बालटाल से आने-जाने का खर्च: 3500
स्थान                           दूरी                ऊंचाई (फीट में)
पहलगाम से चंदनबाड़ी 16 कि.मी.          9500 
चंदनबाड़ी से पिस्सुटॉप 3 कि.मी.               11000
पिस्सू टॉप से शेषनाग 11 कि.मी.       11730
शेषनाग से महागुनास 4.6 कि.मी.      14000
महागुनास से पंचतरणी 9.4 कि.मी.       12000
पंचतरणी से संगम            3 कि.मी.  
संगम से अमरनाथ गुफा    3 कि.मी.       13000

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.