बदहाल पड़ा जिला पुस्तकालय महीनो से लटक रहा ताला

नूर आलम वारसी.

बहराइच. पुस्तकालय यानी लाइब्रेरी जंहा लोग तरह तरह की पुस्तकों का पढ़ने आते है और जानकारियां हासिल करते है और पुस्तकालय पुस्तकों का भण्डार होता है जंहा हर तरह की पुस्तकें मौजूद होती है, कहते है की पुस्तकें इंसान की सच्ची साथी होती है और हमेशा इंसान को सीख व हर तरह की जानकारी देती है,यदि जानकारी का केंद्र पुस्तकालय बंद हो तो रोज पुस्तक पढने वाले लोगों पर क्या असर होगा ऐसा ही कुछ देखने को मिला उत्तर प्रदेश के जनपद बहराइच में जहां जिला पुस्तकालय में महीनों से ताला लटक रहा है कब खुलेगा ताला किसी को नही पता पुस्तकालय के पास मौजूद एक दैनिक रीडर से जब बात की गयी तो उन्होंने जिला पुस्तकालय के महीनो से बंद होने पर मायूशी जाहिर की !

आप इस फोटो में देख सकते है जिला पुस्तकालय में ताला पड़ा हुआ जबकि पुस्तकालय सभी सुविधाओं से लैस है लेकिन इसके बंद होने से दैनिक रीडरों पर इसका असर दिख रहा इस सम्बन्ध जब मीडिया ने जिला विद्यालय निरीक्षक से बात तो उन्होंने स्टाफ की कमी का कारण बताते हुए जल्द ही इस समस्या का निदान होने की बात कही.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *