योगीराज मे जनता तो छोडो पुलिस भी नही है महफूज़ : नदीम फारुकी

रोबिन कपूर. 

फर्रुखाबाद : विगत दिन सांसद पुत्र अमित राजपूत और दरोगा मोहम्मद आसिफ के बीच हुई मारपीट के मामले मै अब सियासत भी गर्म होनी शुरू हो गयी है । तमाम विपक्षी दलों के नेता पुलिस के समर्थन मे कूदने को तैयार हो गये है। आज सांसद पुत्र पर जवाबी मुकदमा दर्ज होने के बाद सियासत भी गर्मी पकड़ गयी है । कुछ लोगों ने पुलिस की कार्यवाही की प्रशंशा भी की है। 

समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष नदीम फारुकी ने एक पत्र जारी करके कल  हुई घटना के बारे मे बताया है कि प्रदेश मे कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो चुकी है प्रदेश मे आये दिन थानों मे होने वाले हंगामे की घटनाओं से जनता से लेकर  पुलिस कर्मी भी अब त्रस्त हो चुके है । कल जिले के थाना  मऊदरवाज़ा  के एसओ राजेश पाठक ने भाजपा नेताओ के उपद्रव से परेशान होकर जो अपना इस्तीफा तक  देने की पेशकश की है वो बहुत  निंदनीय है । प्रदेश मे सत्ताधारी नेता पुलिस पे जबरन दबाव बनाकर झूठे मुकदमे दर्ज करवा रहे है । जो पुलिस कर्मी उनके दबाव मे नही आ पा रहे है उनका मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है । सपा जिला अध्यक्ष नदीम फारुकी ने पुलिस अधिक्षक दयानंद मिश्रा की प्रशंसा करते हुए कहा है कि वो मामले को  निष्पक्ष तरह से समझकर उसमे कार्यवाही करेंगे। पार्टी नेता व प्रवक्ता ईल्यास मसूरी ने भी कल भाजपा नेताओ द्वारा थाने मे किये गये हंगामे की कड़ी निंदा की है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.