चार चोटियाँ कटने के बाद ग्रामीणों मची दहशत, अफवाहों का बाजार गर्म

चौपाल लगाकर ग्रामीण लोग कर रहे हैं रतजगा
बलिया । चोटी कटने की घटनाओं के सामने आने के बाद जिले में भी अफवाहों का बाजार गर्म हो गया है। रविवार की सुबह दुबहड़ थाना क्षेत्र में दो, सिकंदरपुर में एक और सोमवार को रेवती थाना क्षेत्र मे एक सहित कुल चार मामले सामने आने के बाद ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं में भय समा गया है। महिलाओं के बीच चोटी का मामला सबसे ज्वलंत मुद्दा बन गया है। गांवों में कई महिलाएं झुंड में बैठकर इस पर बात करती देखी गईं। रात में भी महिलाएं जागती रहीं।

चोटी पर महिलाओं की चौपाल लगने लगी है। कोई इसे दैवीय प्रकोप मान रहा तो कोई अफवाह करार दे रहा। सच्चाई कुछ भी हो इन घटनाओं ने महिलाओं, लड़कियों के मन में अनजाना डर पैदा कर दिया है।

ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों मे चोटी काटने की घटना बना चर्चा का विषय
ग्रामीण क्षेत्र में स्थित विद्यालयों में भी चोटी कटने की घटनाएं छात्राओं के मन में घर कर गई हैं। स्कूलों में लड़कियां आपस में इस पर बात कर रही हैं। कोई इसे गंभीरता से ले रहा तो कोई मजाक उड़ा रहा। लड़कियां आपस में बात करती देखी गईं कि कोई हमारी भी चोटी न काट दे।
लोगों को समझा रही है पुलिस, अफवाहों पर न दें ध्यान
दुबहड़, सिकंदरपुर और रेवती में मामले सामने आने के बाद पुलिस वहां के लोगों को समझाने का प्रयास कर रही है। पुलिस का कहना है कि लोग किसी तरह की अफवाह पर ध्यान न दें। पुलिस मामले पर बारीकी से नजर बनाए हुए है और गहराई से छानबीन कर रही है। दुबहड़ थानाध्यक्ष अशोक कुमार पांडेय मंगलवार को गांव में लोगों को समझाने पहुंचे कि अफवाहों पर कोई ध्यान न दे। उन्होंने शरारती तत्वों के बारे में कोई भी जानकारी मिलने पर सूचना देने की अपील की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *