लखनऊ एसिड अटैक केस – बोले मुख्यमंत्री कि देखना होगा वास्तव में ऐसा हुआ है कि नहीं

एसिड अटैक होने की खबर पर बोले योगी- देखना होगा कि सच में ऐसा हुआ या नहीं
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने रविवार को कथित तौर पर एक महिला द्वारा सामूहिक बलात्कार और एडिस हमले के आरोप पर संदेह व्यक्त करते हुए कहा, ‘घटना की जांच होनी चाहिए कि महिला पर वास्तव में कोई हमला हुआ है या नहीं।’ बता दें कि मुख्यमंत्री की प्रतिक्रिया ऐसे समय में आई है जब राजधानी लखनऊ के अलीगंज में रहने वाली एक महिला ने आरोप लगाया कि उसके ऊपर दो अज्ञात लोगों ने तेजाब से हमला किया। इस पर सीएम योगी वाराणसी में एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि हमें यह देखने की जरूरत है कि क्या महिला पर सचमुच कोई हमला हुआ है।

जांच चल रही है जल्द ही सब कुछ सामने आ जाएगा। मुझे लगता है कि आज देर शाम तक सारा सच सामने आ जाएगा कि महिला पर सचमुच कोई हमला हुआ है या नहीं। हमें पता चला है कि महिला पर छठी बार एसिड हमला किया गया है। कानून नागरिकों की सुरक्षा के लिए बनाए गए हैं। अगर कोई इनका गलत इस्तेमाल करता है तो उसे भी इसकी सजा दी जाएगी।

दुसरी तरफ पुलिस ने मामले में जानकारी देते हुए बताया कि महिला के दाईं तरफ चेहरे और कंधे पर तेजाब फेंका गया है। किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के ट्रांमा सेंटर में महिला का इलाज किया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार पूर्व में भी महिला को बलात्कार और एसिड अटैक की धमकी दी जाती रही हैं, जिसे देखते हुए महिला की सुरक्षा में हथियारबंद पुलिस कांस्टेबल संदीप सिंह को तैनात किया गया था। वहीं महिला का आरोप कि साल 2008 में भी दो व्यक्तियों ने उसके साथ बलात्कार किया था। वहीं घटना के बाद रायबरेली पुलिस ने दो आरोपी भोंदू सिंह गुड्डू सिंह को हिरासत में लिया था हालांकि उन्हें बाद में जमानत पर रिहा कर दिया। महिला के अनुसार साल 2011 में भी उसपर तेजाब से हमला किया गया था। हालांकि बाद में सुप्रीम कोर्ट ने तेजाब की सार्वजनिक बिक्री पर रोक लगा दी।
वही ताजा घटना के बारे में जानकारी देते हुए अलीगंज के सर्किल ऑफिसर विवेक त्रिपाठी ने कहा, ‘बीती रविवार रात को महिला पर कथित तौर पर तेजाब से हमला किया गया। आरोपियों ने हॉस्टल की दीवार पर चढ़कर महिला के ऊपर के तेजाब फेंक दिया। वीडियो फुटेज की मदद से आरोपियों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है।’ बता दें कि महिला लखनऊ में की निजी संस्था में काम करती है जोकि एसिट अटैक सरवाइवर्स द्वारा चलाई जाती है। सूत्रों के अनुसार महिला के पति और दो बच्चे राय बरेली में रहते हैं।
 (साभार – जनता की आवाज़ वेब पोर्टल)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.