तमसा नदी में डूबने से बच्चे की मौत, लोगो के प्रयास से एक बच्चे को ज़िंदा बचाया गया|

आसिफ रिज़वी.

मऊ. उत्तर प्रदेश के मऊ जनपद के दक्षिणटोला थाना अंतर्गत बेलवाघाट के तमसा नदी में 13 वर्षीय बच्चे के डूबने से मौत ही गयी। जबकि दो बच्चो को ज़िंदा बचा लिया गया। वही पुलिस को बच्चे के डूबने की जानकारी मिलते ही घटना स्थल तो पहुची लेकिन पीडितो का आरोप है कि पुलिस सिर्फ दिखावे के लिए पहुंची थी. उसके साथ किसी भी तरह का बचाव दल नहीं था. 

जानकारी के अनुसार बेलवाघाट नदी में दो बच्चे नहा रहे थे। दोनो बच्चे नहाते-नहाते नदी के बीचो-बीच चले गए और तीनो डूबने लगे। आस-पास के मौजूद लोगो ने बच्चो को डूबते देख वे भी नदी में छलांग लगाकर किसी तरह एक बच्चे को तो बाहर निकाल लिया जबकि एक बच्चा जिसका नाम समीम अहमद ( 13 ) का कोई अता पता नहीं चलने के नाते आस पास के नव युवको और मल्लाहो ने खोज बीन करने के लिये मछुवारो के जाल भी डलवाए गये लेकिन नहीं मिल पाए समाचार लिखे जाने तक दूसरे बच्चे का शव बरामद नहीं हो सका क्योकि नदी में बहाव बहुत तेज है ऐसी परिस्थिति में बच्चे के परिजनों ने प्रशासन को सूचना दी लेकिन प्रशासन मौके पर पहुंचा लेकिन सिर्फ खाना पूसी कर कर निकल पड़ी प्रशिक्षित गोताखोरो को बुलवाने की कवायद में भी नहीं कि न  हीं प्रशासन की तरफ से बच्चे को निकालने के लिए कोई रेस्क्यू चलाया गया| ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि जो भी सरकार में प्रशासन कितना सक्रिय है. वही स्थानीय लोगो ने भी पुलिस प्रशासन पर आरोप लगाया की जानकारी देने के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुची और न ही कोई प्रशासन का नुमाइन्दा यहाँ हालात का जायजा भी लेने के लिये नहीं आया                        

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.