रोज मरते हैं लाखो” मौत जिन्दगी उपर वाले के हाथ में” हम क्या करें – निदेशक बलरामपुर हास्पिटल लखनऊ

ए एस ख़ाँन

लखनऊ बलरामपुर हास्पिटल मे डायलिसिस मशीन पिछली 25 तारीख से खराब है जिसके कारण मरीजों को के जी एम यू रिफर किया जा रहा है। बलरामपुर हास्पिटल से के जी एम यू डायलिसिस कराने जाने के दौरान मरीजो और तीमारदारों को घोर प्रताडना झेलनी पड रही है। ज्ञात रहे की डायलिसिस जैसी प्रक्रिया गंभीर स्थिति में ही मरीजों को कराई जाती है जिसमे जरा सी लापरवाही मरीज के लिए जान लेवा साबित हो सकती है ।

 ऐसी अवस्था में मरीजों को दूसरी जगहा रिफर करना मरीज की जान से खिलवाड करने के समान है। इस बारे में जब बलरामपुर हास्पिटल के निदेशक “ई यू सिद्दीकी” से सवाल किया गया तो जवाब था की मशीन खराब है तथा ठीक होने मे समय लगेगा। ये सवाल करने पर की ऐसी स्थिति में तो मरीज की जान भी जा सकती है।
तो सिद्दीकी साहब का जवाब था की। रोज ही न जाने कितनी मौते होती है। मौत जिन्दगी तो उपर वाले के हाथ में है मै क्या कर सकता हूँ। ऐसी जिम्मेदारी के पद पर आसीन व्यक्ति के मुख से ऐसी बात शोभा नही देती। ये हाल तब है जबकी पिछले कुछ ही माह पहले स्वास्थ्य मंत्री श्री सिध्दार्थ नाथ सिंह ने डायलिसिस युनिट का उद्घाटन किया था ता की गंभीर मरीजों को आसानी से डायलिसिस की सुविधा उपलब्ध हो सके। सनद रहे की ई यू सिद्दीकी पर पहले भी कई तरहा के आरोप लगते रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.