सुविधा से दुविधा बनी नीली बत्ती

शबाब ख़ान
लखनऊ: पीसीएस एसोशिएशन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष उमेश प्रताप सिंह ने प्रमुख सचिव परिवहन विभाग को एक पत्र लिख कर नीली बत्ती को लेकर आ रही समस्या के बारे में बताया। पत्र में परिवहन विभाग को अवगत कराया गया की प्रदेश में आचार संहिता के कारण विकास प्राधिकरण और नगर आयुक्त को नीली बत्ती लगाने की स्पष्ट अनुमन्यता प्रदान नही की गई। जबकि उपरोक्त अधिकारी प्रवर्तन संबंधी कार्यों और जनता के कार्यों से सीधे जुड़े हुए अधिकारी है। ऐसे में नीली बत्ती लगे होने से बार बार चेकिंग के दौरान अधिकारियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा।

उन्होंने पत्र में इंगित कराया की मुख्य विकास अधिकारी, उपाध्यक्ष विकास प्राधिकरण और नगर आयुक्त के पदों पर भारतीय प्रसाशनिक सेवा के अधिकारी, वरिष्ठ प्रांतीय सिविल सेवा के अधिकारी तैनात होते है। जबकि अधिसूचना में इनसे न्यूज़ स्तर के जिला स्तरीय अधिकारियों और प्रभारी निरीक्षक को नीली बत्ती के प्रयोग की अनुज्ञा मिली है।
उमेश प्रताप सिंह ने परिवहन विभाग के प्रमुख सचिव से निवेदन किया है की उपाध्यक्ष विकास प्राधिकरण, नगर आयुक्त जो की जनता से जुड़े हैं उनको नीली बत्ती के प्रयोग की अनुज्ञा के सम्बन्ध में स्पष्ट दिशा निर्देश दिया जाए। जिससे इन अधिकारियो को कोई परेशानी न हो।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *