हादसा: नहर में गिरी एसयूवी, एक ही परिवार के 9 सदस्यों सहित 10 की मौत

शबाब ख़ान
मथुरा: थाना मगोर्रा के मथुरा-जाजमपट्टी मार्ग पर दिल दहला देने वाली भीषण दुर्घटना हुई है। मंगलवार तड़के नहर में एक एसयूवी जा गिरी। इसमें बरेली निवासी दंपति समेत 10 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। मरने वालों में 5 पुरुष और 5 महिलाएं हैं। इसमें 9 शव एक ही परिवार के व एक चालक का  है। कार में 10 लोग सवार थे। चालक का शव काफी देर बाद नहर में कुछ दूर मिला। ग्रामीणों नें पुलिया पर होने वाले हादसों को लेकर रोष है और वे शव नहीं उठने दे रहे थे, करीब ढाई घंटे तक कोई अधिकारी नहीं पहुंचा था। इसके बाद गोवर्धन तहसीलदार और एसपी देहात आदित्य शुक्ला पहुंचे। जिसे लेकर लोगों में आक्रोश देखा गया।

महेश शर्मा निवासी राजीव कालोनी, सुभाष नगर, बरेली अपनी पत्नी दीपिका शर्मा और परिवार के अन्य लोगों पूनम शर्मा, हार्दिक शर्मा, रितिक शर्मा, रोहन, खुशबू, हिमांशी और सुरभि के साथ दौसा, राजस्थान स्थित मेहंदीपुर बालाजी के दर्शन करने गए थे। सभी रात करीब 11 बजे निकले थे। अलसुबह दर्शन करके वे इनोवा कार से भरतपुर की तरफ से मथुरा की ओर आ रहे थे कि मथुरा-जाजमपट्टी रोड पर कार अनियंत्रित होकर नहर में जा गिरी। चीख पुकार मचने लगी, लेकिन अलसुबह का वक्त होने से कोई उनकी आवाज नहीं सुन सका।
कुछ देर बाद एकाध राहगीरों ने नहर में कार  गिरी देखी तो शोर मचाकर अन्य लोगों को इकट्ठा किया और बचाव कार्य शुरू किया। इसमें 9 लोगों की मौत हो चुकी थी। लोगों नें पानी के अंदर जाकर डूबी हुई कार में रस्सी बॉधी, उस रस्सी के दूसरे सिरे के एक ट्रैकटर में बॉधकर खीचा गया तो कार पानी के ऊपर आयी,लोगों की मदद से सभी शव निकाले गए। कार काफी देर तक नहर में ही फंसी रही। सूचना देने पर मगोर्रा पुलिस मौके पर पहुंच गई और उसने भी बचाव कार्य कराया। स्थानीय लोगों में आक्रोश था, वे शव उठने नहीं दे रहे थे। उनका कहना था कि आये दिन पुलिया पर हादसे होते रहते हैं। मृतकों के नाम पते की जानकारी दीपिका शर्मा के आधार कार्ड से हुई।
परिजनों को सूचना दे दी गई है। वे बरेली से निकल चुके हैं। मृतकों में 5 किशोर और 17-18 वर्ष के लड़के-लड़की भी हैं। इनमें से सभी 10 की लाश निकाली जा चुकी है। कार चालक की पहचान उसके ड्राइविंग लाइसेंस से हरिश्चंद्र निवासी बिछुरिया, थाना दिनावर, बरेली के रूप में हुई। नहर से कार निकालने के लिए क्रेन मंगाया गया तब कार को नहर से निकालकर जमीन पर रखा गया, लेकिन ग्रामीण कार में से शवों को निकालने नही दे रहे थे। उनका कहना था कि पुलिया संकरी है। रेलिंग टूटी है। सड़क चौड़ी कराई जाए।

Welcome to the emerging digital Banaras First : Omni Chanel-E Commerce Sale पापा हैं तो होइए जायेगा..

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *