बिहार – जगदीशपुर पुलिस पर झूठे केस मे फंसाने का लगाया आरोप

गोपाल जी 

सन्हौला मोड़ पर नो-इंट्री के दौरान रविवार को अवैध वसूली एवं ट्रक चालक अबु तलहा को एएसआई दिलीप कुमार सिंह द्वारा पिटाई किये जाने के विरोध में ट्रक चालकों द्वारा किये गये सड़क जाम के बाद चौकीदार के बयान पर प्राथमिकी दर्ज हुई थी। इसमें कई निर्दोष लोगों को झूठे केस मे फंसाने का आरोप लगाते हुए खिरीबांध गांव के ट्रक मालिक मो़ इस्तेखार एवं मो़ नियाज ने सोमवार को डीआईजी, एसएसपी, विधि व्यवस्था डीएसपी एवं थानाध्यक्ष को स्पीड पोस्ट के जरिये आवेदन है।

ट्रक मालिक मो़ ईस्तेखार ने बताया कि मेरे ट्रक चालक को एएसआई दिलीप सिंह एवं जवानों ने एक सौ रुपये नहीं दिया तो ट्रक से खीचकर पिटाई की गयी। इस दौरान नो इंट्री में खड़े ट्रक चालकों ने अवैध वसूली एवं पिटाई के विरोध में सड़क जाम किया था। इस दौरान चालक के बयान पर दोषी पुलिस बलों पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है। मैं और मेरा दोस्त मो़ नियाज जाम खत्म होने के बाद जगदीशपुर गये थे। लेकिन पुलिस ने साजिश के तहत हम लोगों पर दबाव बनाने के लिए झूठा केस किया है। छोटे भाई कल्लू, साढ़ू सरफरोज एवं भाई का साला शहंशाह पर सड़क जाम करने का आरोप लगाते हुए झूठा केस पुलिस द्वारा किया गया है। जबकि सभी लोग घर में थे। दिये गये आवेदन में अधिकारी से इन लोगों का टॉवर लोकेशन जांच कर न्याय की मांग की है। ट्रक चालक की पिटाई से खिरीबांध गांव के लोगों में पुलिस के प्रति नाराजगी देखी गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *