17 जुलाई से लखनऊ में अनिश्चितकालीन धरने पर बैठेंगे बीटीसी प्रशिक्षु

करिश्मा अग्रवाल
प्रदेश भर के बीटीसी प्रशिक्षु 17 जुलाई से नियुक्तियों से सम्बंधित अपनी की मांगों को लेकर लखनऊ के लक्ष्मण मेला मैदान में धरने पर बैठेंगे।
बता दें कि पिछले वर्ष 15 दिसंबर को तत्कालीन सरकार द्वारा 12,460 प्राथमिक सहायक अध्यापक भर्ती का विज्ञापन निकाला गया था,जिसकी नियुक्ति हेतु सभी कार्यवाहीयों को भी लगभग पूर्ण किया जा चुका था लेकिन 23 मार्च को सरकार द्वारा इस भर्ती पर अग्रिम आदेश तक रोक लगा दी गयी।सरकार के भर्ती प्रक्रिया पर रोक के निर्णय से प्रदेश भर के बीटीसी धारकों में भारी आक्रोश व्याप्त है।

pnn24 ने जब इस विषय में और अधिक जानना चाहा तो बरेली से प्राथमिक अध्यापक भर्ती में आवेदक बीटीसी प्रशिक्षु मनोज कुमार सिंह ने चैनल को बताया कि, भर्ती से जुड़ी अपनी मांगों को लेकर उनका संगठन कई बार उपमुख्यमंत्री, मंत्रियो, सांसदों एवं विधायको से मिल चुका है किंतु इस पर अब तक कोई भी संतोषजनक कार्यवाही नहीं की गई जिसके कारण अब विवश होकर बीटीसी धारकों ने अपनी मांगों के लिए लखनऊ में 17 जुलाई से धरने पर बैठने का निर्णय लिया है ,जिसकी अनुमति पूर्व में ली जा चुकी है।विधानसभा के सत्र होने के चलते सभी को यह आशा भी है कि उनकी आवाज़ सरकार के कानों तक  पहुँचेगी और उनकी समस्याओं का समाधान निकाला जायेगा।
इस धरने में बरेली से मनोज कुमार सिंह, रामपुर से राकेश विश्कर्मा, उन्नाव से सौरभ सिंह, बिजनौर से धीरज चौहान, आगरा से तनूजा ठेनुआ, बदायूं से नवनीत, पीलीभीत से नितेश गंगवार आदि सम्मिलित होकर इस धरने को अपना नेतृत्व प्रदान करेंगे जिनके साथ मिलकर प्रदेश भर के बीटीसी धारक अपनी मांगो को सरकार के सम्मुख रखकर अपनी आवाज़ बुलंद करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.