कौवा अगर मंदिर पर भी क्यों ना बैठ जाये, वह कौवा ही कहलायेगा – लालू यादव

(जावेद अंसारी)
पटना : बिहार क राजद सुप्रीमों लालू एवं सुशील मोदी का राजनीतिक अखाड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा है। ढाई महीने से बेनामी संपत्ति को लेकर सुशील मोदी लालू प्रसाद पर अपनी भणाष निकालने में कोई कर नहीं छोड़ रहे हैं। वही राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद यादव ने ट्वीटर के जरिए सुशील मोदी पर हमला किया है ट्वीटर पर लालू यादव ने कुछ-इस तरह का वार किया है। जैसे कि झूठ बोले कौवा काटे काले कौवे से डरियो जी हां मैं बात कर रहा हूं बिहार के सियासत में गत ढाई महीने से लालू परिवार की बेनामी संपत्ति को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।

भाजपा केे पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी लगातार लालू परिवार पर हमला कर रहे हैं। इसी मामले को लेकर लालू ने ट्वीटर के जरिए सुशील मोदी से दो दिनों के अंदर माफी मांगने को कहा है। ऐसा नहीं करने पर लालू ने सुशील पर मानहानि का मुकदमा करने की चेतावनी भी दी है। हालांकि, उसके बाद सुशील मोदी ने प्रेस कांफ्रेस कर लालू पर पलटवार किया है, लेकिन लालू के कहने का अंदाज काफी रंगीला है। लालू ने ट्वीट कर कहा है कि झूठ उगलने के लिए प्रेस कांफ्रेस करता है, दिल्ली करें या लंदन, यह जान लें कि कौवा अगर मंदिर पर भी क्यों ना बैठ जाये, वह कौवा ही कहलायेगा।
वहीं दूसरी ओर लालू के पुत्र तेजस्वी सुशील मोदी पर ट्वीटर के जरिए झूठ बोलने का आरोप लगाया लालू के पुत्र ने ट्वीट कर कहा है कि सुशील मोदी इन दिनों झूठ और अफवाह फैलाने का ठेका उठाये हुए हैं। बातों में सत्यता नहीं होती इसलिए इनकी पीसी में कोई वरिष्ठ नेता भी नहीं आता। लालू की बानगी ट्वीटर पर देखने को मिलती हैं इसमें कोई शक नहीं, क्या सुशील मोदी राजद सुप्रीमों से माफी मांगेगे।
लालू के पुत्र ने आगे लिखा है कि सुशील मोदी अगर सच्चा हिंदूधर्मी हैं, तो मंदिर में चलकर सबूत और कागजात के साथ कहे कि अभी तथाकथित 13 एकड़ जमीन लालू की है, भाजपा सांसद की नहीं। लालू के पुत्र तेजस्वी ने लिखा है कि आपको कोई उपहार दे और आप लेना चाहे तथा वह उपहार लौटा दें। फिर भी सुशील जैसे लोग झूठ की उल्टियां करने से बाज नहीं आते।
वही दुसरी ओर लालू प्रसाद यादव ने कार्यकर्ताओं से कहा कि लालू भाजपा से डरने वाला नहीं है भाजपा लालू को को भगाना चाहता है लेकिन लालू ऐसा नहीं होने देगा। 27 अगस्त को होने वाली पार्टी की रैली को अब तक की ऐतिहासिक रैली बताते हुए लालू ने कहा कि यह भाजपा को देश से उखाड़ फेंकने की शुरुआत हो गई हैं ये भाजपा भी जानती हैं भागेगा कौन ये तो 2019 में पता चलेगा। इसलिए इसका नारा रखा गया है भाजपा भगाओ देश बचाओ इससे राष्ट्रीय विपक्ष बनाने की तैयारी शुरू होगी। साथ ही उन्होंने उपस्थित कार्यकर्ताओं से पूछा कि अगर मैं जेल चला गया, तो रैली करोगे या नहीं, इस पर सभी कार्यकर्ताओं ने खड़े होकर एक सुर में कहा (करेंगे) लालू ने कहा कि हर एक कार्यकर्ता को लालू यादव बन कर काम करना है। देश बहुत ही खतरनाक स्थित में है, भाजपा लालू को हटाना चाहती है और हम भाजपा हटाना चाहते हैं। हम लोगों को हर तरह से डिमोरलाइज्ड करना चाहते हैं, जेल का भय दिखा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.