बाढ से निपटने के लिए डीएम ने लेखपालों को दिया गुरुमंत्र

अंजनी राय 

बलिया। संभावित बाढ़ से निपटने के लिए जिला प्रशासन ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। बाढ़ की आपदा के दौरान कैसे लोगों को बेहतर से बेहतर राहत दिलाई जा सके, इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी सुरेन्द्र विक्रम ने बैरिया व सदर तहसील के लेखपालों के साथ बैठक कर जरूरी टिप्स दिये। कहा कि बाढ़ जैसी दैवीय आपदा में लेखपाल अगर सेवाभाव से काम करें तो निश्चित ही शत्-प्रतिशत पीड़ितों को राहत मिलेगी। लेखपालों ने भी बाढ़ के दौरान आने वाली समस्याओं से अवगत कराया।

डीएम ने कहा कि जो भी वितरण होगा, उससे सम्बन्धित कागजात भी सुरक्षित रखने होंगे। राहत सामग्री वितरण स्थल चिन्हित कर लें। यह किसी भी मुख्य सड़क के किनारे नही होना चाहिए। जहां खाना बनेगा या पैक होगा वहां विपणन, आपूर्ति विभाग के अधिकारी रहेंगे। बाढ़ चौकियों पर पशुपालन विभाग, स्वास्थ्य विभाग व जनता को राहत पहुंचाने वाले अन्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी तत्पर रहेंगे। तहसीलदार को निर्देश दिया कि एक राजस्व हल्के को एक बाढ़ चौकी से जोड़ा जाए। लेखपाल अपने क्षेत्र के संभ्ररांत नागरिकों से बराबर सम्पर्क में रहेंगे। निर्देश दिया कि इस बीच संचार व्यवस्था लगातार बनी रहे। तहसीलदार को निर्देश दिया कि प्रत्येक लेखपाल को सोलर चार्जर भी जरूरत पड़ने पर उपलब्ध कराएं। अगर किसी नाविक का पेमेंट अभी तक लम्बित हो तो तत्काल मुझें दें, ताकि शीघ्र भुगतान किया जा सके। लेखपाल यह भी देख लेंगे कि बाढ़ चौकियों पर हैण्डपम्प, बिजली, सोलर लाईट आदि व्यवस्था ठीक है या नही। बैठक में सदर व बैरिया तहसील के एसडीएम,  तहसीलदार,  कानूनगो, लेखपाल आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.