सावन मेले के दौरान ड्रोन से होगी वाराणसी के घाटों और मंदिरों की निगरानी

शबाब ख़ान

वाराणसी: शहर के कमिश्नरी सभागार में कानून व्यवस्था और आगामी सावन मेले पर समीक्षा बैठक करने आये प्रदेश के डीजीपी सुलखान सिंह और प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने समीक्षा बैठक के बाद पत्रकार वार्ता करते हुए डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा कि पूरे सावन मेले के दौरान पुलिस को कावरियों को सुरक्षित यात्रा कराने के साथ साथ यातायात को सुचारू बनाये रखने के लिए बताया गया हैं। स्वंयसेवी संस्थाओं की भी सावन के दौरान मदद ली जाएगी। 

संचार की पूरी व्यवस्था की जा चुकी है। घाटो और मंदिरों पर कोई दुर्घटना न हो इसके लिए व्यवस्था की गई हैं। अन्य संवेदनशील जगहों पर चेकिंग अभियान चलाया जाएगा। ड्रोन कैमरों के द्वारा हवाई निरीक्षण कराया जाएगा। डीजे पूरी तरह से ही प्रतिबंधित रहेगा। लेकिन छोटे साउंड सिस्टम भजन-कीर्तन के लिए चल सकेगा। किसी भी डीजे को कही भी पाया जाएगा तो उसे जब्त कर लिया जाएगा। कोई भी आपत्तिजनक गाना सख्त गैरकानूनी है इसपर सख्त करवाई की जाएगी। 
बनारस में फोर्स की कमी पर डीजीपी ने बताया कि संवेदनशील जगहों और अतिरिक्त जगहों पर पीएसी और एनडीआरएफ की तैनाती की जाएगी। डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा कि कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए हम लगातार काम कर रहे है। जितने भी बड़े अपराध हुए हैं उसमें शामिल अपराधियों को पकड़ा गया हैं और उनके विरुद्ध उचित विधिक कार्यवाई की गया है।
प्रमुख सचिव गृह ने बताया कि इस बार यात्रा को सुगम बनाने और आम नागरिकों का ख्याल रखने के लिए आज एक मीटिंग रखी गयी थी। जिसमे 3 मण्डल के जिलाधिकारी, समीक्षक मौजूद थे। कोशिश हैं कि गंगा से जल लेकर बाबा के दर्शन तक कि सारी प्रक्रिया को सुगम बनाया जाए।
सड़को की समय से रिपेयरिंग हो जाये ताकि कांवरियो को असुविधा न हो इसके लिए सम्बन्धित विभागों को आदेशित कर दिया गया हैं। पेयजल को लेकर भी आदेशित किया गया है कि साफ पीने का पानी यात्रियों, कावरियों और आम नागरिकों को उपलब्ध कराया जाये। कांवरियो के रूट पर विधुत आपूर्ति 24 घण्टे रहे जिससे कोई अव्यवस्था न हो। आज रोडवेज के अधिकारियो को बुलाकर भी बताया गया हैं कि वे अपने ड्राइवर को बता दे कि कांवरियो के साथ कोई गलत तरीके से बातचीत न करे, और ध्यान रखे कि कोई दुर्घटना न हो। 
जिलाधिकारियों को भी निर्देशित किया गया हैं कि कांवरियो के रूट पर निजी अस्पतालों से भी सम्पर्क करके बात कर ले ताकि कावरियों को जरूरत पड़नें पर मेडिकल मदद मिल सके।  पुलिस प्रबन्ध को भी बताया गया हैं कि कंवरियो समितियो से सम्पर्क कर ले ताकि अव्यवस्था उत्पन्न न हो सके। साम्प्रदयिक सौहार्द हर हाल में बना रहे इसके लिए जिलाधिकारी ध्यान रखेंगे।  घाटो पर कोई अव्यवस्था न फैले इसके लिए जल पुलिस को सजग रहने का निर्देश दिया गया हैं।

Related Articles

2 thoughts on “सावन मेले के दौरान ड्रोन से होगी वाराणसी के घाटों और मंदिरों की निगरानी”

Leave a Reply

Your email address will not be published.