लखीमपुर खीरी – यहाँ बच्चो को बर्तन खुद धोने पड़ते है

फारुख हुसैन 

लखीमपुर खीरी //  मामला लखीमपुर खीरी के तहसील  निघासन का है जहाँ पर अक्सर प्राथमिक विद्यालयों में बच्चो को देने वाले भोजन में लगातार त्रुटि मिल रही है और वहाँ बच्चो को भोजन करने के बाद खुद ही बर्तनों को धुलना भी पड़ रहा है ।

जानकारी के अनुसार मामला जिले के विकास खण्ड निघासन क्षेत्र के सकटुपुरवा के प्राथमिक तथा उच्च प्राथमिक विद्यालय का है जहाँ दोनों विद्यालय एक ही परिसर मे है दोनो विद्यालय का एमडीएम एक ही जगह बनाया जाता है । परंतु एमडीएम में भोजन  गुणवत्ता पुर्वक नही बनाया जाता है साथ ही बच्चों को भर पेट भोजन भी नही परोसा जा रहा है और भारतीय सस्कृति के अनुसार भोजन करने पर भोजन मंत्र भी पढ़ा जाना चाहिए लेकिन सकटुपुरवा के विद्यालय मे यह भी नही होता है इसके अलावा सब्जी चावल दाल जो भी बनता है उसमे गुणवत्ता नहीं होती है इसके अलावा भोजन के बाद बर्तनो को साफ करने की जिम्मेदारी रसोईया की होती है लेकिन यहां भोजन के बाद  बर्तन भी बच्चो से धुलवाए जाते है जिसके कारण यहाँ  शासन के आदेशो की खुले आम धज्जियां उड़ती दिखाई  दे रही है और इस ओर किसी का ध्यान भी नही जा रहा है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.