निर्दोष को बचाने के लिए ग्रामीण पहुंचे जिलाधिकारी कार्यालय

यशपाल सिंह 

बूढ़नपुर-आजमगढ। चोरी के मामले में आरोपित किये गये पिता पुत्र के समर्थन में आये कई दर्जन ग्रामीणों ने बुधवार को जिलाधिकारी आजमगढ़ कार्यालय पर प्रर्दशन कर न्याय की गुहार लगाई।इसमें ग्रामीणों ने जिलाधिकारी आजमगढ़ से मांग की है चोरी की निष्पक्ष जांच करके निर्दोष को बचाया जाय। मामला कप्तानगंज थाना क्षेत्र के मदनपट्टी गांव का बताया गया है इस गांव के निवासी विजय बहादुर वर्मा पुत्र रामराज ने अपने पट्टीदार गोरख वर्मा व उनके पुत्र चरन वर्मा के खिलाफ घर में घुसकर 350000 के जेवरात चुरा ले जाने का आरोप लगाया है।

घटना गत 23.07.2017 रात की बताई गयी है विजय बहादुर की तहरीर पर कप्तानगंज थाने में आरोपी पिता पुत्र के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है बुधवार केा आरोपियों के समर्थन में इसी गांव के दजर््ानों ग्रामीणों ने शपथपत्र के माध्यम से पिता पुत्र को निर्दोश बताते हुए आरोपियों के खिलाफ दर्ज मुकदमा हटाने की मांग की है ग्रामीणों ने बताया है कि विजय बहादुर और गोरख के बीच पुरानी रंजीश जमीन को लेकर चली आ रही है। इसी के चलते दोनेा पट्टीदारों में गाली गलौज मार पीट तक होने के साथ साथ एक दूसरे को देख लेने की धमकी दी जाती रही है। ग्रामीणेां ने यह भी बताया है कि आरोपित किये गये पिता पुत्र को फसाने की धमकी विपक्षी विजय बहादुर ने पहले ही दे दिया था। ग्रामीणेां का तर्क है कि जब कभी भी चोरी की घटना होती है तो चोर दरवाजे को ताला अन्दर घुसतें हैं जबकि कमरे का दरवाजा तोड़ा नही बल्कि खोला गया था लोगों ने यह भी बताया हैकि चोरी की सूचना के बाद पुलिस दल के साथ फिंगर प्रिंट टीम ने भी अपनी जांच की है यदि फिंगर प्रिंट की निश्पक्ष जांच हो जाय तो मामला अपने आप स्पश्ट हो जायेगा। ग्रामीणों ने इस मामले की जांच सक्षम अधिकारी से कराये जाने की मांग की है जिससे निर्दोश रूप से फंस रहे पिता पुत्र को न्याय मिल सके।

इस अवसर पर रामअचल वर्मा बेचूलाल वर्मा, रामजीत विश्वकर्मा ,परशुराम विश्वकर्मा,रमाकान्त वर्मा,संदीप वर्मा,विनोद वर्मा,यमुना वर्मा,जयहिन्द वर्मा,फेरई वर्मा आदि दर्जनों की संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *