ईंट भट्टे पर काम करने वाले मजदूर ने किया आत्महत्या.

नितेश मिश्रा 
देवरिया. एक ईंट भट्ठे पर काम कर रहे मजदूर ने रस्सी के सहारे फांसी लगाकर मंगलवार की सुबह अपनी जान दे दी। मजदूर दो माह पूर्व ही इस ईट भट्टे पर काम करने के लिए आया था । पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया ।

झारखंड प्रदेश के लोहरदगा जनपद के ताल झींगो गांव के रहने वाले संजय ग्राम उरांव (30 वर्ष) पुत्र मलखान भगत खुखुंदू थाना क्षेत्र के मुजरी बुजुर्ग गांव स्थित एक ईट भट्टे पर कार्य कर रहा था।  वह पिछले कुछ दिनों से परेशान था, उसका परिवार गांव पर ही रह रहता था । संजय सोमवार की देर रात भोजन करने के बाद ईट भट्टे के मजदूरों के लिए बने कमरे में सोने चला गया। कमरे में लगे लोहे की पाइप  में रस्सी के सहारे फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। सुबह लोग उसे खोजते हुए कमरे की तरफ गए तो लोहे की रॉड से उसका शव लटकता देख दंग रह गए। भट्ठे पर अफरा तफरी मच गई। मुंशी ने इसकी सूचना भट्ठा मालिक और पुलिस को दी। सूचना मिलते ही खुखुन्दू थाने से एसआई राम बहाल यादव और आनंद शंकर मय फोर्स मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने भट्ठा मालिक और आस-पास के लोगों का बयान दर्ज किया। पुलिस और भट्ठा मालिक परिजनों को सूचना देने की कोशिश कर रहे थे , लेकिन मजदूर के परिवार का मोबाइल स्विच ऑफ बता रहा था। मजदूर इसके पहले जनपद के ही एक दूसरे भट्टे पर काम करता था। जिसके बंद होने पर वह मुजरी बुजुर्ग भट्ठे पर चला गया था।  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *