नकली शराब का हुआ भडाफोढ

यशपाल सिंह

आजमगढ़। जनपद की पुलिस ने शुक्रवार की भोर में मुखबिर की सूचना पर तरवां क्षेत्र की रासेपुर बाजार में संचालित हो रही नकली शराब फैक्ट्री का पर्दाफाश किया। पुलिस ने इस काले कारोबार से जुड़े चार लोगों को गिरफ्तार किया है। मौके से 53 ड्रम रेक्टिफाईड स्प्रिट, खाली शीशी, नकली रैपर, होलोग्राम, ढक्कन, पैकिंग मशीन तथा बोलेरो वाहन बरामद किया है। बरामद शराब की अनुमानित कीमत डेढ़ करोड़ आंकी गई है।

थानाध्यक्ष मेंहनगर चंद्रभाष्कर द्विवेदी को जरिए मुखबिर तरवां क्षेत्र के रासेपुर बाजार के पास संचालित नकली शराब फैक्ट्री के बारे में जानकारी मिली। उन्होंने इस बात को तरवां थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार यादव से साझा किया। शराब कारोबारियों को दबोचने की रणनीति बनाते हुए पुलिस की संयुक्त टीम ने शुक्रवार की भोर में रासेपुर बाजार स्थित यूनियन बैंक शाखा के बगल में एक मकान पर छापेमारी की। इस दौरान पुलिस ने मकान में मौजूद शराब के काले कारोबार में लिप्त चार लोगों को धर दबोचा
मकान के हाल नुमा कमरे में रखी 53 ड्रमों में भरी 11660 लीटर रेक्टिफाईड स्प्रिट, लगभग 10 हजार नकली रैपर व होलोग्राम, पांच हजार खाली शीशी व ढक्कन, दो पैकिंग मशीन तथा कारोबार में प्रयुक्त बोलेरो वाहन भी मौके से बरामद किया गया। सूचना पाकर एसपी अजय कुमार साहनी, एसपी सिटी, सीओ लालगंज तथा जिला आबकारी अधिकारी सुदर्शन सिंह अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। बरामद शीरा शराब की तीव्रता 98 प्रतिशत मापी गई। पकड़े गए आरोपियों में मकान मालिक व पूर्व प्रधान राजनाथ सिंह मूल निवासी ग्राम कोटिया खुटहन थाना तरवां, विनय सिंह ग्राम बीरपुर थाना मेंहनगर, दीप नारायण उर्फ दीपक सिंह ग्राम करउत तथा रामचंद्र ग्राम प्रतापपुर थाना क्षेत्र जहानागंज के निवासी बताए गए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *