तारिक़ आज़मी की मोरबतियाँ पढ़े मगर हँसना मत गुरु: सच्ची बता रहे है, 40 लाख की कार से 400 रुपईया का गमला चुरा ले गए, का कहे काका “चोरी कि चिंदीचोरी”, जाने शाम होते-होते आया पिक्चर में और क्या ट्वीस्ट

तारिक़ आज़मी

हमारे काका कि हंसी केहू दिन अगल बगल का मकान हिला देगी कई बार ई बतिया हम काका के समझावा है। मगर काका है कि समझबे नाही करे है। आज सुबह सुबह काका की हंसी ने बगल का मकान ही नही हिलाया मेरी नीद के परखचे उड़ा डाले। जब से काका को मल्टीमीडिया सेट क्या दे दिया वो दीवाने हुवे पड़े है ट्वीटर चिरईया के। जब देखो ट्वीटर पर कुछ न कुछ देखते रहते है और अपने ज्ञान का अथाह भंडार मेरे सामने उड़ेल देते है।

मगर आज काका की हंसी ने हमारी नीद के ऐसे परखचे उडाये कि हम दौड़ते हुवे बिना रुके काका के पास पहुच गए। काका हसते हसते लोट पोत हो रहे थे तो काकी भी उनके मोबाइल पर कछु देख कर मुस्कुरा रही थी। हम बड़ा असमंजस में थे कि आखिर क्या सीन है गुरु? मगर पूरा सीन हम आपको बतायेगे तो देखिये आप हंसियेगा मत। अब दिल ही तो है। साथ में याद रखियेगा कि दिल तो बच्चा है जी। अब बच्चा तो कछु हरकत कर सके है। उसके का समझ में आएगा कि का किया।

जब हमने काका की इस लोटपोट स्थिति की जानकारी हासिल उनसे किया तो उन्होंने एक वीडियो ट्वीटर पर दिखाया। गुरु देख के वीडियो तो हमारी भी हंसी नही रुकी थी एक मिनट के लिए। बात कच्छु ऐसी रही कि काका के एक ट्वीट दिखा। ट्वीट गुरुग्राम का है। जहा G-20 के लिए सजावट हुई थी। ट्वीट के वीडियो में एक कार आती है। कार भी कोई छोटी कार नही भाई लग्ज़री कार जिसकी कीमत 40 लाख होती है। कार रूकती है और कार से दो लोग उतर कर सड़क पर रखा सरकारी गमला चुरा के कार की डिग्गी में रखने लगते है। भाई आप मज़ाक न समझे ये हकीकत है। 40 लाख की कार से 400 रुपये का गमला चुरा कर भाग जाते है कार सवार।

अब इस वीडियो को देखने के बाद काका की हंसी इसी पर छुट रही थी कि जिसके पास 40 लाख की कार है वह घर में गमला चोरी का लगाएगा क्या? काका ने हमसे कहा “कहो बेटवा का सोचत हो, का कहिईयो एका, चोरी कि चिंदी चोरी।” मेरे भी लब मुस्कराहट दिखा रहे थे। वाकई गुरु कमाल ही तो है कि अपनी नहीं कम से कम कार की तो इज्ज़त रख लेते। मगर फिर खुद को सँभालते हुवे कहा कि “काका अब दिल ही तो है, और दिल तो बच्चा है न जी, मचल बैठा गमलो पर, अब कहा जाए खरीदने तो सोचा होगा जो माल सरकारी वह संपत्ति हमारी, उठा ले गये।”

दरअसल जब हमने जानकारी अपने रिसोर्सेस से इकठ्ठा किया तो जानकारी हासिल हुई कि घटना गुरुग्राम के सहरोल बॉर्डर क्षेत्र की है। बताया जा रहा है कि सड़क पर G-20 मीट को लेकर शहर भर में सजावट के लिए गमले रखे गए थे। वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि एक काले रंग की लग्जरी कार सड़क की सजावट के लिए रखे गए गमलों के पास रुकती है। गाड़ी के रुकते ही उसमें से दो लोग नीचे उतरते हैं और एक-एक करके गमलों को कार की डिग्गी में रखना शुरू कर देते हैं।

45 सेकंड के इस वीडियो में दोनों शख्स एक-एक करके 7 गमले कार की डिग्गी में रखते नज़र आ रहे हैं। गमलों को कार में रखने के बाद दोनों डिग्गी बंद करते हैं और कार स्टार्ट कर फरार हो जाते हैं। गमले चुराने वाले आदमियों को पता नहीं चला कि कोई उनका वीडियो बना रहा है। वीडियो के आखिर में गाड़ी का नंबर दिखा है। इससे पता चलता है कि गाड़ी हरियाणा की है। गाड़ी किआ मोटर्स कॉर्पोरेशन की है। इस मॉडल की गाड़ी की कीमत लगभग 40 लाख रुपये है। इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद DLF फेज-3 के इस्पेक्टर ने दोपहर में बयान देते हुवे कहा था कि सामने आए वीडियो को देखते हुए जांच शुरू कर दी गई है। गाड़ी नंबर के आधार पर जांच आगे बढ़ाई जा रही है।

अरे रुके साहब, शाम होते होते तो पिक्चर में और भी ट्वीस्ट आ गया

रुके साहब, शाम होते होते पिक्चर में और भी ज़बरदस्त ट्वीस्ट आ गया। गाडी नम्बर से ट्वीटर के खोजियों ने जो तलाश किया और फिर जो पिक्चर का ट्वीस्ट निकल कर सामने आया वह और भी ज़बरदस्त था। भाई साहब सोशल मीडिया पर तो हंगामा मचा हुआ है। जिस 40 लाख की गाडी से गमले चुराने का वीडियो वायरल हो रहा है वह गाडी नम्बर को लेकर पुलिस हरियाणा की है तो थोडा धीरे चली। मगर ट्वीटरिया खोजबीन कर्ताओं की रफ़्तार तो ज़बरदस्त निकल गई।

खोज बीन करके गाडी नम्बर के आधार पर सोशल मीडिया यूज़र्स इस गाडी का सम्बन्ध मशहूर यूट्यूबर एल्विश यादव से बता रहे हैं। कई लोगों का कहना है कि गमला चोरी में जिस लग्जरी गाड़ी का इस्तेमाल किया गया, वो यूट्यूबर एल्विश यादव की है। एल्विश यादव वीडियो क्रिएटर हैं। शॉर्ट फिल्म बनाते हैं, जो अक्सर यूट्यूब पर ट्रेंड करती हैं। एल्विश यादव यूट्यूबर और एक्टर होने के साथ-साथ खुद का ‘एल्विश यादव फाउंडेशन’ नाम का एक एनजीओ भी चलाते हैं। यही नही एल्विश यादव के सम्बन्ध भाजपा से होने का दावा ट्वीटर पर उपलब्ध करवाने वाले कम नही है। एल्विश की वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी के साथ तस्वीरे भी सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। इस मामले में इस पोस्ट को लिखे जाने तक एल्विश यादव की ओर से कोई बयान नहीं दिया गया है।

Welcome to the emerging digital Banaras First : Omni Chanel-E Commerce Sale पापा हैं तो होइए जायेगा..

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *