‘गंगोह का इतिहास’ पुस्तक का हुआ विमोचन

करिश्मा अग्रवाल
इतिहास
सदैव से ही अतीत का आइना रहा है पर इस अतीत को सहेजने में अनेकों लोगों की
महती भूमिका रही है। आज जब हम अपने अतीत से परिचित होते हैं तो यह उन लोगों
के त्याग ,समर्पण,और परिश्रम का परिणाम है, जिन्होंने अतीत को न सिर्फ
अपनी लेखनी से सहेजा बल्कि उससे आगे आने वाली पीढ़ी को भी रूबरू कराया।और
ऐसा हर प्रयास सराहनीय है चाहे वह छोटा हो या बड़ा। गंगोह के इतिहास को
सहेजने का ऐसा ही एक प्रयास एक सेवानिवृत शिक्षक एम यासीन अहमद गंगोही
द्वारा किया गया है। उन्होंने ‘गंगोह का इतिहास’ पुस्तक के माध्यम से
पाठकों को वहाँ का क्षेत्रीय इतिहास बताने का एक सराहनीय प्रयास किया है।
सहारनपुर
के गंगोह में इस पुस्तक का विमोचन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आईरा के
राष्ट्रीय महासचिव और ‘ PNN24 न्यूज ‘ के संपादक तारिक़ आज़मी
द्वारा किया
गया। इस अवसर पर संपादक तारिक आज़मी ने लेखक के प्रयास एवं पुस्तक की सराहना
करते हुए कहा की क्षेत्रीय इतिहास के क्षेत्र में ऐसी पुस्तकों और शोधों
की बहुत आवश्यकता है।निश्चित रूप से यह पुस्तक गंगौर के इतिहास के नवीन
तथ्यों से पाठकों को परिचित करायेगी। इस
विमोचन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि तारिक आज़मी, आईरा राष्ट्रीय कार्यकारिणी
सदस्य मनोज गोयल, आईरा प्रदेश उपाध्यक्ष सरफराज अहमद, संदीप माहेश्वरी आदि
उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.