जज प्रतिभा गौतम हत्याकांड – न्यायालय में शुरू हुई गवाही

समीर मिश्रा 

कानपुर. शहर के सनसनी फैला देने वाले हत्याकांड प्रतिभा गौतम हत्याकांड में आज अपर जिला जज -2 कानपूर की कोर्ट में प्रतिभा गौतम महिला जज की हत्या में आरोपी मनु अभिषेक राजन जेल से साक्ष्य कार्यवाही में हाजिर अदालत हुआ, बतौर गवाह पोस्टमार्टम करने वाले 4 डाक्टरो के पैनल में से डॉ0 अनुपम सचान पेश हुये जिन्होंने अपने बयान में बताया कि पोस्टमार्टम  रात्रि 7:15 बजे से शुरू हो कर उसी रात  11:30 बजे तक चार डाक्टर के पैनल द्वारा किया गया.

पोस्टमार्टम की कार्यवाही में पैनल के इंचार्ज डॉ0 ए0 पी0 मिश्रा रहे किन्तु ;पोस्टमार्टम की रिपोर्ट खुद डा0 सचान ने तैयार किया था , पोस्टमार्टम समय से प्रतिभा की मौत 24 घंटे पहले हुई थी , मौत का कारण श्वास नलिका के अवरुद्ध होंने की वजह है उनके शरीर में कुल 16 चोटे मौजूद थी , रात्रिकालीन पोस्टमार्टम की अनुमति के बावत सफाई पक्ष के वकील दुर्गेश सिंह परिहार और राजीव मोहन द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने CMO के आदेश की बात बताई जबकि आदेश की प्रति कोर्ट के सामने वह पेश नही कर सके,
प्रातः 11 बजे से शाम 4 बजे तक सफाई पक्ष के वकीलो द्वारा प्रश्न पूछे गए जिसमे सरकारी वकील द्वारा आपत्तिया दर्ज करवाई गई. समयाभाव से अब उनकी शेष गवाही के लिए 30-06-17 नियत की गई है। आज उधर मनु अभिषेक के पिता रिटायर्ड जज एस0 सी0 राजन व माता नीरू राजन के खिलाफ थाना छावनी की पुलिस द्वारा उक्त मुकदमे में हाजिर होने के लिए वारण्ट आदेश दिनाँक 25,03,17 को न्यायालय द्वारा जारी किये गए है पर आपत्ति जरिये अधिवक्ता उक्त दोनों मुल्जिम की ओर से की गई अधिवक्ता दुर्गेश सिंह परिहार ने तर्क प्रस्तुत किया कि अदालत के समक्ष सही तथ्यों का विलोपन कर विवेचक द्वारा न्यायालय से वारण्ट और कुर्की की कार्यवाही  का आदेश प्राप्त किया है जो की अपास्त योग्य है कोर्ट ने 22,06,17 को विवेचक से रिपोर्ट तलब किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.