अमरीका आग से न खेलेः शमख़ानी

करिश्मा अग्रवाल
ईरान की सर्वोच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव ने सीरिया में अमरीका के मूर्खतापूर्ण व्यवहार को आग से खेलने के समान बताया है। अली
शमख़ानी ने बुधवार को रासायनिक हथियारों के कथित प्रयोग के बहाने सीरिया
पर अमरीक के संभावित हमलों की धमकी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि
सीरिया के विरुद्ध अमरीका द्वारा इस प्रकार के निराधार दावे, आतंकवाद के
मोर्चे की निरंतर पराजय पर पर्दा डालने और सीरिया की सेना की निर्णायक
प्रगति से मुक़ाबले के लिए पेश किये जा रहे हैं।
अली शमख़ानी ने सीरिया की धरती पर अमरीका के ग़ैर क़ानूनी हमलों और
रासायनिक हथियारों के प्रयोग के बहाने सीरिया की शईरात छावनी को निशाना
बनाए जाने की ओर संकेत करते हुए कहा कि इस घटना के बाद रूस ने आधिकारिक रूप
से अमरीका द्वारा पेश किए गये दावे की समीक्षा के लिए तथ्यपरक समिति के
भेजने की मांग की थी किन्तु वाशिंग्टन ने अपनी पोल खुलने के भय से इस
कार्यवाही में बाधा डाली।
ईरान
की सर्वोच्च राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव ने सीरिया के विरुद्ध अमरीका
द्वारा पेश किए गये दाबवे के विषय में ओपीसीडब्लूय के हस्तक्षेप की
आवश्यकता पर बल देते हुए कहा कि यदि वाशिंग्टन अपने दावे में सच्चा है तो
उसे ओपीसीडब्लूय के निरिक्षकों को प्रमाण पेश करने चाहिए ताकि सीरिया सरकार
के सहयोग से निष्पक्ष सत्यापन हो सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.