मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का था 15 जून तक गडढा मुक्त का दावा पर 04 जुलाई तक नही हुआ पुरा

उमेश गुप्ता
बिल्थरा रोड तहसील क्षेत्र के फरसाटार ग्राम के मुख्य मार्ग का आलम ये है कि यहाँ की पिच रोड नाले में तब्दील हो गयी है। जिससे ग्रामीणों को आने जाने में काफी दूशवारियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों का आरोप है कि सरकार किसी की भी हो फरसाटार का विकास नही होता नेता लोग यहाँ आते तो है परन्तु सिर्फ वादा करने और वोट लेने 

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के सपथ लेते ही उन्होंने फरमान जारी किया था कि प्रदेश भर की सड़को को 15 जून तक गडढा मुक्त किया जाये परन्तु उनके इस आदेश का पालन फरसाटार की सड़के देखने के बाद कहा जा सकता है की नही किया गया ।
काम बोलता है
पिछली अखिलेश यादव सरकार जिस दावे के साथ चुनाव मैदान में  उतरी थी की उसने प्रदेश भर में बहुत काम किया है और उनका नारा था कि काम बोलता है. परंतु फरसाटार में उनका ये दावा पूरी तरह से झूठा साबित हो जाता है । यहाँ पर ऐसा लगता है कोई काम हुआ ही नही है।

स्वच्छता अभियान के लिए प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाया जा रहा स्वच्छ भारत अभीयान का भी नही है यहाँ कोई असर  सड़के वैसी ही गन्दी , नाले वैसे ही भटे हुए है ऐसा लगता है स्वच्छता का इस गॉव से कोई लेना देना ही नही। स्वच्छता की जब बात हो तो फरसाटार के उत्तर में स्थित मिश्रा बस्ती की बात करना लाज़िम यहाँ इस मोहल्ले का हर नागरिक गन्दगी से बहुत परेशान था कई जगह मोहल्ले को लोग गए गुहार लगाये परन्तु किसी के कानो तक जू ना रेंगी आख़िरकार परेशान होकर खुद ही गन्दगी को साफ़ करने का मन बनाया और 1 दिन साफ़ कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.