बलिया के समाचार अंजनी राय के साथ

विद्युत करेंट की चपेट मे आने से किशोर की मौत
बलिया। बैरिया कोतवाली क्षेत्र के बीबीटोला स्थित महाराज बाबा  मार्ग पर शुक्रवार को दोपहर में घर का बिजली कनेक्शन जोड़ते समय 17 वर्षीय गोविन्द पुत्र हरेराम वर्मा की मौत हो गयी। बताया जाता है कि गोविंद किराये के अपने घर में बिजली का तार जोड़ रहा था। इसी दौरान करेंट की चपेट में  आ गया।  स्थानीय लोग उसे इलाज के लिये सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र  सोनबरसा ले गये, जहां  चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

नलकूप चालू करते समय करेंट की जद में आये किसान की मौत
बलिया । रसड़ा कोतवाली क्षेत्र के कोड़रा ग्राम में नलकूप चालू करते समय करेंट की चपेट में आने से किसान श्याम नाथ यादव (50) की मौत हो गई। वह खेत की सिंचाई के लिए नलकूप को स्टार्ट करने के दौरान करेंट की जद में आ गए। लोगों को इसकी जानकारी काफी देर बाद हुई। परिवार वाले चिकित्सक के यहां ले गए। जांच के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।
दिव्यांग, असाध्य/गंभीर बीमारी से पीड़ित शिक्षक-कर्मचारियों का होगा चिन्हांकन – बीएसए
बलिया। समायोजन से सम्बंधित सूची में शामिल दिव्यांग, असाध्य/गंभीर बीमारी से पीड़ित शिक्षक-कर्मचारियों का चिन्हांकन होगा। इसके लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष कुमार राय ने सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया है।
अपर मुख्य सचिव, उत्तर प्रदेश शासन एवं बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव के पत्र का हवाला देते हुए बीएसए ने बताया कि सरप्लस शिक्षकों एवं रिक्त पदों का विवरण जांचोपरांत ब्लाकवार सूची सभी बीईओ को सौंपी गई है। सूची को बीआरसी कार्यालय पर चस्पा करते हुए दिव्यांग, असाध्य/गंभीर बीमारी से पीड़ित शिक्षक-कर्मचारियों को चिंहिन्त करने का निर्देश दिया गया है। बताया कि चिन्हांकन में सक्षम अधिकारी द्वारा निर्गत प्रमाण-पत्र संलग्न कर स्पष्ट आख्या 24 जुलाई तक प्रत्येक दशा में बीईओ बीएसए कार्यालय में उपलब्ध करायेंगे, ताकि समय से समायोजन की प्रक्रिया पूरी हो सकें।
जुलूस निकालकर कलेक्ट्रेट पहुची सैकड़ो आंगनबाड़ी कार्यकत्री
बलिया। अखिल भारतीय आंगनबाड़ी कर्मचारी महासंघ के तत्वावधान में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को सैकड़ों की संख्या में जुलूस निकाल कर कलेक्ट्रेट पहुंची। इस दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने डीएम कार्यालय के बाहर जोरदार तरीके से प्रदर्शन किया। तत्पश्चात डीएम को संबोधित नौ सूत्रीय ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट मनोज पांडेय को सौंपा।
इस दौरान वक्ताओं ने कहा कि विभाग के कार्यों से हटकर अन्य कार्य भी शासन-प्रशासन के निर्देश पर कराया जाता है। यही नहीं, टीकाकरण, मलेरिया, आयरन की गोलियां बांटने से लेकर समाजवादी पेंशन, विकलांग पेंशन व राशन कार्ड का सत्यापन कराया जाता है। इसके लिए अलग से कोई मानदेय नहीं दिया जाता है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को केवल वि•ाागीय कार्य करने के लिए शासनादेश होने के बाद भी उनसे अतिरिक्त कार्य लिया जाना कितना न्याय संगत है। मांग किया कि शोषण बंद किया जाय, पदोन्नति के लिए प्रत्येक परियोजना में वरिष्ठता सूची बनाई जाय। इसके साथ कई बिंदुओं पर शासन-प्रशासन का ध्यान आकृष्ठ कराया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.