कानपुर – शहर में धडाम हुई सफाई व्यवस्था, वीआइपी रोड के कूड़ा घर की नहीं होती सफाई, क्षेत्रीय सभासद मौन

समीर मिश्रा के संग मनीष गुप्ता 

कानपुर. सफाई कर्मचारी करते है लापरवाही किदवई नगर से माल रोड जाने वाली वीआईपी रोड जिस रोड से रोजाना कोई ना कोई  आला अधिकारी निकलते है मगर उनको कानपुर के कैंट स्थित पूर्व नवाब सभासद के पार्क के सामने बीच रोड पर पड़ा सड़ा हुआ कूड़ा किसी भी अधिकारी या फिर  क्षेत्रीय सभासद को भी नजर नही आ रहा है जहा एक तरफ कानपुर को एक स्मार्ट सिटी का नाम  दिया जा रहा है वही एक तरफ  बड़े बड़े दिग्गज नेता वा हमारी देश के प्रधानमंत्री झाडू लेकर  शहर को साफ सुथरा करने मे लगे है मगर यहा तो हम शहर मे चारो तरफ गंदगी फैलाने मे लगे हुवे है 

 नगर निगम व कन्टोमेन्ट बोर्डे चाहे जितने भी दांवे   करे लेकिन कानपुर शहर में सफाई की व्यवस्था पूरी तरह धड़ाम हो चुकी है  गली, और आस पास के  मोहल्लो से लेकर मुख्य सड़को और चौराहे तक चारो ओर कूड़े के ढेर लगे है। समय पर कूड़े का उठान नही हो रहा है, कंटेनर कूड़े से भरे पड़े है, ना ही जल्द  उनसे  कूड़ा उठाया जा रहा है कूड़े की  सड़ान से लोगो का जीना दूभर हो   चुका है लोगो को रोड से गंदगी के मारे निकलना दूभर हो चुका है  मगर  कन्टोमेन्ट बोर्ड की लापरवाही के कारण जनता यह दर्द झेलने  को मजबूर है
शहर में कूड़े  की व्यवस्था पर नगर निगम व कन्टोमेन्ट बोर्ड उनके कर्मचारी फेल हो चुके है पूरा शहर कूड़े व गंदगी से   बजबजाता  जा रहा है और किसी अधिकारी के कानो में जू तक नही रेंग रही। यहां तक की सब जानने के बाद सिर्फ बाते ही की जाती है कोई कार्यवाही अमल में नही जाई जा रही है। सडक, गली, चौराहे हर जगह-जगह कूडे के ढेर बिखरे पड़े है। नालियां सिल्ट से भरी पड़ी है। घनी  बस्ती की बाद तो दूर रही पाॅश इलाके गंदगी से पटे पड़े  है। कई बार सुअरो वा आवारा जानवरो  पर अंकुश लगाने की सिर्फ बातें सिर्फ कागजो पर हुई है  लेकिन हुआ कुछ नही भी दर्जनो की संख्या में  व आवारा जानवरों का बीच सड़क पर आतंक देखने को मिलता है कि क ई बार तो आवारा जानवरो के चक्कर मे तो कितने लोग अपनी जान तक भी गवा चुके है  जानवरो ने तो इस सड़े कूड़े मे अपना अपना बसेरा भी बना रखा है  वही  आवारा जानवर कूड़े के ढेर पर मण्डराते रहते है जिसके चलते   यहीं कूड़ा सड़कों पर  बिखर जाता है। अब बरसात भी शुरू हो गयी है ऐसे में बजबजाता कूड़े की गंद लोगों के स्वास्थ्य के लिए भी काफी ज्यादा  खतरनाक साबित भी  हो सकता है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.