ग्राम सभा की भूमी पर कब्ज़े को लेकर दो समुदायों में खुनी संघर्ष, प्रधानपति की मौत.

रवि शंकर दुबे.
रामपुर. उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ ने एन्टी भूमाफिया का  गठन तो किया है लेकिन उनके इस गठन से जनता का कुछ भला होता नज़र नहीं आ रहा है और न ही एन्टी भूमाफिया  गठन से भूमाफियायो में कोई डर दिखाई दे रहा है।   रामपुर में आज सरकारी जमीन को लेकर दो समुदायों में हुआ खुनी संघर्ष जिसमें एक की मौत हो गयी और कई लोग घायल हो गए। जिसमें  तीन की हालत नाज़ुक बनी है गाँव में तनाव का माहौल पुलिस अधीक्षक और अपर पुलिस अधीक्षक सहित  तमाम अधिकारी और पुलिस मौके पर मौजूद हैं …..

रामपुर के थाना मिलक के गंगापुर शर्की गाँव की प्रधान सोनी पाण्डे उनके पति संजीव पाण्डे का घोसीपुरा गाँव के नन्ने उर्फ़ मुखिया से ग्राम समाज की ज़मीन के क़ब्ज़े को लेकर विवाद चल रहा था ये गाँव ज़िला बरेली और जिला रामपुर के बॉर्डर के गाँव में है।  घोसीपुरा गाँव गंगा नदी के उस पार है .और गंगापुर शर्की नदी के इस पार है दोनों गावो के बीच में नदी किनारे ग्राम समाज की 45 एकड़ जमीन है  उस जमीन पर हर साल ये दोनों समुदाये के लोग अपना अपना क़ब्ज़ा जताते हैं  और जिस की लाठी में दम होता है वे क़ब्ज़ा करके उरद बो देता था। क्योँकि नदी किनारे की ज़मीन रेतीली है  उस ज़मीन पर सिर्फ उरद ही हो सकते हैं।  ग्राम समाज की ज़मीन पर दुसरे समुदाय के उरद लगे हुए थे।  आज प्रधान पति संजीव पाण्डे कार, ट्रैक्टर और मोटर साईकल से 15-20 लोगो को लेकर ग्राम समाज की ज़मीन पर क़ब्ज़े के लिए गया लेकिन दुसरे समुदाय के लोगो को इसकी भनक पहले ही लग गयी थी और वे लोग पहले से  10-12 लोग तमंचे और बंदूक लेकर बैठ गये प्रधान पति जैसे ही ज़मीन पर अपने साथियों के साथ पहुंचा, वे अपनी कार से नीचे भी नहीं उतरा था कि उन पर दुसरे समुदाय के लोगो ने अंधाधुन्द फायरिंग शुरु कर दी और उनकी कार ट्रैक्टर और बाइक भी क्षतिग्रस्त कर दी और वहां से भाग गए।  पुलिस को सूचना मिलते ही तुरंत पुलिस घटना स्थल पहुंची और गाँव में घटना के बाद दहशत का माहौल हो गया।  घायलों को जनपद बरेली के सिरोली के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया जिस दौरान प्रधान पति संजीव पाण्डे की मौत हो गयी मृतक  संजीव पण्डे के बाकी के तीन भाई राजीव पाण्डे, अखिलेश पाण्डे, तारा चन्द पाण्डे इनकी हालत भी अभी नाज़ुक बनी हुई है।  दो समुदाय के विवाद को देखते हुए पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा और अपर पुलिस अधीक्षक सुधा सिंह सहित सभी सीओ और पुलिस ने गाँव में डेरा डाल रखा है।  और गाँव में कोई तनाव न हो इस बात की गंभीरता को देखते हुए  पी ए सी भी तैनात की गयी है गाँव को छावनी में तब्दील कर दिया है। उधर  पुलिस अधीक्षक ने गाँव वालों से पूछ-ताछ कर की और देर रात तक सभी अधिकारी गाँव में मौजूद रहे। इस वारदात में  इनके अलावा भी कई लोगों के छर्रे लगे है जिनकी हालत अभी बेहतर है और उनका उपचार चल रहा है बरहाल गाँव में तनाव की स्थिति बनी हुई है जिसके चलते  रामपुर प्रशासन पूर्ण रूप से अलर्ट है।  .इस मामले में पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा ने बताया कि  भूमि विवाद को लेकर दो पक्षो में झगड़ा हो गया है  जिसमें मारपीट और फायरिंग हुई है .जिसमे एक व्यक्ति  की मौत हो गयी और तीन व्यक्ति घायल हैं।  और तहरीर के आधार पर मुकद्दमा दर्ज कराया जा रहा है और ये  दो समुदायों का मामला है, गाँव में फाॅर्स तैनात है और घायलों को बरेली के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती किया गया है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.