नहीं खुलेंगे 15 अक्टूबर तक स्कूल-कालेज और कोचिंग संस्थाये, इसके बाद राज्य सरकारे कर सकती है इस पर विचार

आफ़ताब फारुकी

नई दिल्ली: कोरोना महामारी काल में बच्चो का लॉक डाउन अभी और जारी रहने की संभावना है। केंद्र सरकार द्वारा जारी आदेश के तहत राज्य सरकार 15 अक्टूबर के बाद से स्कूल कालेज और कोचिंग संस्थाये खोलने पर विचार कर सकती है।

इस क्रम में केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के बीच आज अपनी नवीनतम “अनलॉक 5” गाइडलाइन्स में कहा है कि राज्य और केंद्र शासित प्रदेश यह तय कर सकते हैं कि वे 15 अक्टूबर के बाद स्कूलों, कॉलेजों और कोचिंग संस्थानों को क्रमबद्ध तरीके से फिर से खोलना चाहते हैं या नहीं। गृह मंत्रालय ने कहा, “निर्णय संबंधित स्कूल / संस्थान प्रबंधन के परामर्श से लिया जाएगा।”

सरकार ने कहा कि ऑनलाइन और दूरस्थ शिक्षा, हालांकि, शिक्षण का पसंदीदा तरीका बना रहना चाहिए। सरकार ने कहा, “जहां स्कूल ऑनलाइन कक्षाएं संचालित कर रहे हैं, और कुछ छात्र फिजिकल रूप से उपस्थित होने के बजाय ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेना पसंद करते हैं, उन्हें ऐसा करने की अनुमति दी जा सकती है।”

सरकार ने कहा है कि “छात्रों को केवल अभिभावकों की लिखित सहमति के साथ स्कूलों / संस्थानों में बुलाया जा सकता है। ये पूरी तरह से माता-पिता की सहमति पर निर्भर होना चाहिए। सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार करने को कहा है। स्कूलों और कॉलेजों को फिर से खोलने से पहले सुरक्षा सावधानी बरतने के लिए कहा गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *