बड़ा खुलासा – सावधान…! कही आप भी तो नही होने जा रहे है इन ब्लैकमेलरो का शिकार, ऐसे वीडियो काल कही न बन जाये आपके लिए “काल”

तारिक़ आज़मी

आज हम आपको ऐसे सिंडिकेट का खुलासा कर रहे है जो लोगो को वीडियो काल पर हॉट वीडियो चैट की बात करता है। उसके बाद जब शिकार तैयार हो जाता है तो वह उसको खुद को भी न्यूड दिखाने की बात करता है। एक वीडियो काल करके ही शिकारी अपने शिकार को जाल में फंसा लेता है और उसके फोटो को वायरल करने की धमकी देते हुवे धन उगाही करता है। इस सिंडिकेट के शिकारी को सबसे बड़ा फायदा उसके शिकार के इज्ज़त का होता है। शिकार अपने परिवार और परिचित हो बात न पता चले सोच कर शिकारी को पैसे देता है। मांग भी शुरू तो 50-60 हज़ार से होती है मगर खत्म दो चार हज़ार पर हो जाती है।

वो स्मार्ट, हैण्डसम, के साथ शर्मिला भी है। जवानी की दहलीज़ पर कदम रखने के लिए बेताब वो किशोर को व्हाट्सएप नम्बर एक उपलब्ध हो जाता है। पहले ही दिन चैट पर उस नम्बर पर एक कथित लड़की कहती है कि 500 पेटीएम करो तो वीडियो काल करके खुद को न्यूड दिखाउंगी। वह पढ़ा लिखा था। उसने पैसे भेजने से ये कहकर मना कर दिया कि पहले वीडियो काल करो, बाद में पैसे दूंगा। उधर से जवाब आता है कि ठीक मगर तुमको भी बिना कपड़ो के खुद को दिखाना होगा। शायद किशोर के अन्दर वासना पैदा होने लगी। इसी का फायदा उठाना तो वो वीडियो कालर चाहता था। उसके ओके कर दिया।

फिर उधर से वीडियो काल आती है। सामने से स्क्रीन पर एक लड़की को निर्वस्त्र दिखाया जाता है। अमन भी इस काल से इतना उत्तेजित हो जाता है कि वह भी अपने कपडे उतार देता है। फिर महज़ 25 सेंकेंड में काल कट जाती है। यहाँ से शुरू हो जाता है ब्लैक मेल का धधा। किशोर को अब वो कालर उसके ही न्यूड फोटो भेजना शुरू कर देता है। वह किशोर घबरा जाता है। फिर पैसो की मांग शुरू होती है। यहाँ शिकार बना इंसान खुद शिकारी के मायाजाल में फंस जाता है। इसके बाद बात शुरू हज़ारो से होती है आखिर दो चार हज़ार में बात तय होती है। कालर के द्वारा किशोर को दो चार हज़ार में बक्श देने का सौदा तय हो जाता है। फिर पैसे दिल जाते है और कालर के द्वारा उस नम्बर को ब्लाक कर दिया जाता है।

कैसे होता है ये गोरखधंधा

इस ब्लैकमेल के गोरखधंधे में शिकारी पहले एक नम्बर लेता है। उस नम्बर को किसी लड़की के नाम से ट्रूकालर पर सेव करता है। अधिकतर नाम ऐसे रखे जाते है जिनसे मज़हब अथवा धर्म न पहचान में आये। जैसे काजल, सोनी, गुडिया आदी। फिर गूगल से कोई खुबसूरत अज्ञात मॉडल का फोटो उठा कर प्रोफाइल पर लगाता है। उसके बाद शिकार की तलाश करता है। कुछ हॉट हॉट बाते व्हाट्सएप चैट पर करता है उसके बाद उसका नम्बर एक से दुसरे के पास खुद ब खुद पहुच जाता है। इसके बाद शुरू होता है शिकार फंसाने का धंधा। फिर बात वीडियो काल पर खुद को बिना कपड़ो के दिखाने की होती है। बिना कपड़ो के दिखाने का लालच शिकार को उसकी तरफ आकर्षित करता है। पहले ऐसी वीडियो काल के लिए 500 पेटीएम अथवा गूगल पे करने की बात होती है। अधिकतर तो पहले ही शॉट में शिकार बन जाते है और एक पोर्न वीडियो को ऑनलाइन वीडियो समझ कर भुगतान कर देते है।

कैसे हुई जानकारी

हमारी जानकारी में इस प्रकार का सिंडिकेट विगत माह कानपुर जनपद में आया जब एक किशोर ने काफी दबाव देने एक बाद इसकी जानकारी दिया। काफी प्रयास के बाद भी किशोर पुलिस से शिकायत दर्ज करवाने को केवल इस लिए तैयार नही हुआ कि माँ और पिता जी को क्या मुह दिखाऊंगा। वो किशोर हमसे भी काफी शरम से पानी पानी होते हुवे अपने साथ घटित घटना की जानकारी देता है। हम उसकी स्थिति को समझ सकते थे। बहुत ज्यादा दबाव हमने भी नही दिया। किशोर ने बताया कि अब तक अपनी पाकेट मनी से खुद खर्च न करके उस जालसाज़ को 8 हज़ार रुपया दे चूका है।

हमने इस व्हाट्सएप नम्बर को उससे लिए और उसको ट्रूकालर में चेक किया तो नाम काजल लिख कर आया। इसके बाद हमने उससे एक अन्य नम्बर से चैट किया। कुछ देर बाद जवाब आया और फिर जवाब आया कि बिना कपड़ो के मुझको वीडियो काल पर देखना है तो 500 रुपया पेटीएम करो। हम भी ठहरे बनारसी, हमने भी भौकाल टाईट कर दिया कि 500 क्या 5 हज़ार देंगे मगर अडवांस नही देंगे। पहले वीडियो काल करो। हमको किशोर द्वारा दिली जानकारी सच निकली और उधर से खुद को भी न्यूड करने की मांग आई। हमने ओके लिख दिया और उधर से वीडियो काल आती है। हम अपना दिमाग लगाये थे और अपने कैमरे पर उंगली रख दिया था। जिससे हमारी फोटो उधर न जा सके। इसके बाद उस वीडियो काल को देख कर पूरा माजरा समझ में आ गया कि कैसे न्यूड वीडियो चैट की बात होती है। 20 सेंकेंड में काल कट गई और पैसे की मांग आई तो हमने भी उस किशोर का रिफरेन्स देते हुवे अपना परिचय दिया तभी हमारा नम्बर ब्लाक कर दिया गया।

कैसे होती है ये वीडियो चैट

दरअसल, नवजवान अथवा उसके मकडजाल में फंसे लोग अपनी कमोतेजना के कारण ध्यान नही दे पाते है। ये न्यूड काल करने के लिए पोर्न मूवी का सहारा लिया जाता है। एशियन पोर्न मूवी ऐसी लिया जाता है जिसमे एक्ट्रेस इंडियन जैसी लगे। इसके बाद उसके कुछ कपडे उतारने वाले शाट्स को अलग करके एक क्लिप बना लिया जाता है। वीडियो काल करके इस क्लिप को लैपटॉप अथवा कंप्यूटर पर प्ले किया जाता है और कालर को वो दिखाया जाता है। शिकार को समझ आता है कि वो जिससे चैट कर रहा है वही लड़की है और कपडे उतार रही है।

इस वीडियो काल को अगर ध्यान दे तो इस धोखेबाजों को आसानी से इनकी करतूत समझ सकते है। वीडियो चैट पर जो वीडियो देखेगे तो उसके बीच में बेड़ी एक लाइन चलती रहती है। किसी अन्य स्क्रीन पर चलती वीडियो को अगर आप दुसरे कैमरे में कैप्चर करेगे तो ऐसी लाइन बनकर आती है। मगर काल पर लड़की को निर्वस्त्र देखने की उत्तेजना लिए युवक अथवा शिकार इतना मतवाला अपनी कमोतेजना में रहता है कि उसको ये बारीकी समझ नही आती है। फिर आसानी से शिकार हो जाता है इन चालबाजो का।

कहा तक फैला है इनका जाल

हम शुरू में इस मकडजाल को केवल कानपुर तक सीमित समझ रहे थे। मगर कल हमारे एक परिचित ने वही नम्बर हमे बनारस में प्रदान करके ऐसी घटना के सम्बन्ध में बताया तो हमारे ज़ेहन में मामला ताज़ा हो गया। अधेड़ी के दहलीज़ पर कदम रखे भाई साहब वैसे तो काफी न नुकुर कर रहे थे मगर उनके द्वारा हमको एक स्क्रीन शॉट उपलब्ध करवाया गया। हमको हंसी भी आई और हम समझ सकते है कि भाई साहब खुद शिकार हो चुके है। मगर लोकलज्जा के कारण किसी को कुछ बता नही सकते है। उनके द्वारा बताये गए नम्बर को हमने जब चेक किया तो यह नम्बर वही था। फिर जानकारी मिल गई कि इस सिंडिकेट की पकड़ एक ही शहर में नहीं बल्कि कई अन्य शहरों में भी है।

कैसे करे बचाव

इस सिंडिकेट से बचने का युवाओं और कुछ अधेड़ो के लिए एक सबसे आसान रास्ता है कि न कहना सीखे। गलती अगर हुई है तो उसको अपने परिजनों से बताये और संकोच न करे। आपके परिजन इस गलती को माफ़ कर देंगे ये सच है। आपका साथ देंगे। पुलिस में ऐसे ब्लैकमेलर की शिकायत दर्ज करवाए। किंचित भी शर्माए नही। सबसे बड़ी बात आप स्वयं संयमी बने। ऐसे चैट और वीडियो काल के लिए मना कर दे, नम्बर ब्लाक कर दे। जो आपका मित्र ऐसे नम्बर आपको उपलब्ध करवाता है वह कदापि आपका मित्र नही हो सकता है। संयमी बने। सुरक्षित रहे। आपके जानकारी हेतु बता देता हु कि इस प्रकार की वीडियो काल करने वाली लड़कियां नही लड़के हो सकते है। आपको साईबर हनी ट्रैप में फंसाने की कोशिश होगी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *