दोस्तों ने ही कर दिया 2 लाख की सुपारी लेकर दोस्त की हत्या, शव नदी मे फेंका

रॉबिन कपूर

फर्रुखाबाद: बीते कई दिनों से लापता युवक की लाश काली नदी के किनारे पड़ी मिली थी। पुलिस नें युवती भागनें की रंजिश में हत्या कर शव फेंके जाने के मामले में तीन सगे भाईयों सहित चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी। घटना के आठ दिन बाद पुलिस नें मृतक के दोस्त सुपारी किलर व प्रेमिका के पिता और चाचा को गिरफ्तार कर आला कत्ल बरामद किया।

विदित है कि बीते 5 अप्रैल को जनपद कन्नौज मनकापुर छिबरामऊ निवासी 23 वर्षीय भाई शैलू दुबे पुत्र प्रमोद दुबे की गाँव की ही एक युवती को भगा ले जाने की रंजिश में हत्या कर शव काली नदी के निकट फेंक दिया था। घटना के बाद पुलिस नें मृतक के भाई आशु दुबे की तहरीर पर गाँव के ही सुधाकर, विवेक, दिवाकर पुत्र जगन्नाथ व जगन्नाथ पुत्र सियाराम के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस घटना की छानबीन कर रही थी।

पुलिस नें बुधवार को घटना का खुलासा करते हुए आरोपी धर्मवीर उर्फ धर्मा पुत्र रघुवीर वाथम, मृतक के प्रेमिका के परिजन जगन्नाथ पुत्र सियाराम दुबे व सुधाकर पुत्र सियाराम दुबे निवासी मकनपुर छिबरामऊ को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार मृतक शैलू दुबे की हत्या उसकी प्रेमिका के पिता जगन्नाथ व चाचा सुधाकर नें दो लाख में सुपारी देकर करायी थी।

सुपारी शैलू के दोस्त धर्मवीर उर्फ धर्मा को ही दी गयी। घटना वाले दिन जब शैलू थाना क्षेत्र के ग्राम पकरिया बाइक ठीक करानें के लिए आया था। तभी उसके दोस्त धर्मा नें दो लाख के खातिर दोस्ती के पवित्र रिश्ते को कलंकित करते हुए उसे काली नदी के निकट बुलाकर उसकी हत्या कर दी और शव व बाइक क़ो नदी में फेंक दी। पुलिस नें तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर मृतक की बाइक के साथ ही हत्या में प्रयुक्त चाक़ू व आधार कार्ड आदि बरामद किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *