तेज़ बारिश से भरभरा कर गिरी खंडहर हो चुके एक मकान की दीवार, बारिश भर दालमंडी के इस जर्जर भवन से दहशत में रहे क्षेत्र के नागरिक

ईदुल अमीन

वाराणसी। वाराणसी के दशाश्वमेध थाना क्षेत्र स्थित त्रिपुरा भैरवी व डेढ़मल गली के बीच पर खंडहर बन चुके एक जर्जर भवन संख्या डी0 5/120 की जर्जर दिवार आज सुबह भरभरा कर गिर पड़ी। ये तो इत्तिफाक ही था कि उस समय कोई आसपास नही था अन्यथा किसी बड़ी दुर्घटना से इनकार नही किया जा सकता है।

घटना के सम्बन्ध में क्षत्रिय नागरिको का कहना था कि यह मात्र संयोग ही था कि तेज़ बारिश होने के कारण इस मार्ग से आवागमन नहीं हो रहा था। जिससे कोई हताहत नही हुआ। बताया गया कि डेढ़मल गली में डी 4/3 नंबर का मकान भी काफी जर्जर हो चुका है। आशंका है कि बारिश होती रही तो यह भी किसी वक्त धराशायी हो सकता है। जो किसी बड़ी दुर्घटना की वजह बन सकता है। इसी दरमियान नगर निगम को जिलाधिकारी वाराणसी ने जर्जर भवनों के लिए आदेश जारी किया था। मगर नगर निगम की कछुआ चाल अभी भी बरक़रार है।

दालमंडी के इस जर्जर भवन को लेकर सशंकित रहे आसपास के लोग

दालमंडी के भवन संख्या सीके 39/5 की स्थिति भी काफी जर्जर है। इस भवन के लिए नगर निगम वाराणसी ने नोटिस जारी किया था। नगर निगम के अभियंताओं ने भी इस भवन को जर्जर माना था और माना था कि कभी भी किसी घटना दुर्घटना का ये भवन कारण बन सकता है। मगर अभी तक इस जर्जर भवन पर नगर निगम ने ध्वस्तीकरण की कोई कार्यवाही नही किया है।

वही क्षेत्रीय नागरिको का कहना है कि बारिश के वजह से ये भवन कभी भी गिर सकता है। चालु रास्ता और कमर्शियल स्थान होने के कारण यदि घटना घटती है तो काफी जान माल का नुक्सान हो जायेगा। मगर नगर निगम इस प्रकरण को धीमी रफ़्तार से चला रहा है। अब देखना होगा कि क्या किसी घटना के होने से पहले जाग जा रहा है अथवा किसी घटना दुर्घटना से इंतज़ार करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *