बेटे के इलाज हेतु माँ ने लगाई थी भाजपा विधायक रोमी सहानी से मदद की गुहार, मदद पहुचने के पहले ही हुआ बेटे का देहांत

फारुख हुसैन

पलियाकलां-खीरी। पलिया विधानसभा क्षेत्र के गांव कमलापुरी निवासी एक युवक को गंभीर हालत में लखनऊ के केजीएमयू में भर्ती कराया गया। पैसे के अभाव में बीमार की मां ने भाजपा विधायक रोमी साहनी को फोन किया और सहयोग करने की दरकार लगाई। फोन के बाद विधायक मौके पर जा पहुंचे, लेकिन तब तक युवक की मौत हो चुकी थी। बेटे की मौत से परेशान मां को विधायक ने ढांढस बंधाते हुए शोक संवेदना व्यक्त की।

पलिया क्षेत्र के ग्राम कमलापुरी निवासी सोनू पुत्र विजय का मेडिकल कॉलेज लखनऊ में इलाज चल रहा था। पैसे के अभाव में युवक के परिजनों को उसका इलाज कराने में दिक्कत हो रही थी। बुधवार को युवक की मां ने भाजपा विधायक रोमी साहनी को फोन लगाकर मदद की गुहार लगाई। जानकारी पर विधायक पीड़ित के पास पहुंचने के लिए रवाना हुवे। बताया जाता है कि जब तक विधायक मौके पर पहुंचे तब तक युवक ने दम तोड़ दिया था।

बेटे की मौत के बाद परेशान मां को विधायक ने ढांढस बंधाया और शोक संवेदना व्यक्त की। गरीबी के चलते मृतक के परिजनों के पास शव को कमलापुरी तक ले जाने के लिए भी पैसे की व्यवस्था नहीं। भाजपा विधायक रोमी साहनी ने मृतक के शव को गांव तक पहुंचाने के लिए तुरंत एक गाड़ी की व्यवस्था कराकर उन्हें रवाना किया। इस दौरान विधायक ने मृतक के परिजनों को पन्द्रह हजार रुपए की सहायता भी दी।

अब अगर खबर के अन्दर की बात करे तो विधायक ने मानवता की मिसाल भले ही कायम कर दिया हो। वह खुद को इसके लिए तसल्ली दे सकते है कि उन्होंने पीड़ित परिवार की सहायता के लिए प्रयास किया। भले ही वक्त पर सहायता नही पहुच पाई मगर कोशिश विधायक जी की बढ़िया रही। मगर इस सबके बावजूद अगर सवाल उठे तो सवाल सबसे बड़ा ये उठेगा कि विधायक जी अपनी विधान सभा क्षेत्र में सर्वसुविधा युक्त अस्पताल पिछले 9 साल में तो बनवा ही सकते थे। सत्तारूढ़ दल से सम्बन्धित विधायक जी खुद की सरकार में केजीएमसी जैसी सुविधाओं युक्त एक अस्पताल बनवा दिए होते तो न जाने कितने गरीबो का इलाज वह हो जाता। सवाल थोडा कठिन है विधायक जी, मगर विश्वास करे, आपकी उस सहायता से अधिक बड़ी सहायता पुरे विधानसभा क्षेत्र के लिए ये होती।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *