पलिया के स्थानीय मंडी परिसर में धान क्रय केंद्रों पर नहीं खरीदा जा रहा किसानों का धान, किसानों में आक्रोश, किसानो के समर्थन में धरने पर बैठे भाजपा विधायक

फारुख हुसैन

लखीमपुर खीरी। जिले के तहसील पलिया क्षेत्र के किसानों की धान की फसल खरीदने के लिये स्थानीय मंडी परिसर में सात धान क्रय केंद्र लगाए गए हैं। जिन पर किसानों की फसल को खरीदा जाना है। लेकिन किसानों के धान की फसल खरीदने के नाम पर केंद्र प्रभारी उनका शोषण करते नजर आ रहे हैं। वही कई दिनों से  धान बेचने के लिए किसान मंडी का चक्कर लगा रहे है, लेकिन उसके बावजूद गेहूं का पानी नहीं खरीदा जा रहा है जिसको लेकर किसानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

वहीं एक बार फिर जब किसान बृहस्पतिवार को धान की फसल तुलाने पहुंचे तो मंडी परिसर में किसानों ने बाधित पड़े तौल कार्य को देख हंगामा शुरू कर दिया। किसानों का आरोप था कि क्रेंद्र प्रभारी उनकी धान की फसल में नमी बताकर उन्हें वापस लौटा रहे हैं। जिससे उन्हें समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। आक्रोशित किसानों ने पूरे मामले से स्थानीय अधिकारियों को भी अवगत करा दिया है। वही किसानों ने 2 दिन का वक्त धान खरीद को लेकर दिया है कि 2 दिन तक यदि धान की खरीद शुरू नहीं हुई तो वह धरना करने पर मजबूर होंगे। वहीं क्रय केंद्र प्रभारियों का कहना है कि राइस मिल मालिक हड़ताल पर हैं। बताया कि अधिक बारिश होने के कारण धान में नमी भी ज्यादा निकल रही है जिसके कारण तौल फिलहाल बंद है।

धरने पर बैठे बीजेपी विधायक

प्रदेश सरकार से लेकर केंद्र सरकार किसानों के हित में तमाम योजनाओं को चलाने की बात कर रही है और हर योजना का लाभ सीधे किसानों तक पहुंचाने का दावा भी किया जा रहा है। परंतु लखीमपुर खीरी में सरकारी योजनाएं अधिकारियों के लापरवाही के चलते दम तोड़ती दिखाई दे रही हैं। जिसमें बात चाहे गन्ना किसानों के मूल्य की हो या फिर धान खरीद की हो।

गौरतलब है कि 1 अक्टूबर से प्रदेश में धान खरीद की शुरुआत का दावा किया जा रहा है। तमाम व्यवस्थाओं को चुस्त दुरूस्त होने की बात की जा रही है। परंतु लखीमपुर में किसानों के धान खरीद में भ्रष्टाचार व अव्यवस्थाओं का आलम यह है कि बीजेपी के ही गोला विधानसभा के विधायक अरविंद गिरी अव्यवस्थाओं के खिलाफ कलेक्टर परिसर के सामने धरना प्रदर्शन करने पहुंच गए।

बताते चले कि 1 अक्टूबर से स्थानीय मंडी परिसर में धान क्रय केंद्रों पर किसानों के धान की खरीद की बात की गई थी। लेकिन उसके बावजूद भी धान क्रय केंद्रों पर धान की खरीद नहीं की जा रही है। जिसको लेकर किसान काफी परेशान हैं। जिसको देखते हुए जिले के गोला विधानसभा के विधायक अरविंद गिरी ब्रहस्पतिवार को सुबह 10 बजे से अपने कार्यकर्ताओ व एक सौ एक किसानो के साथ मौन धारण कर धरना प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। जिसके बाद उन्होंने अपनी मांगों को लेकर एक ज्ञापन जिला अधिकारी को सौंपा है। जिलाधिकारी को लिखे गए ज्ञापन में उन्होंने कहा है कि धान खरीद को लेकर धान क्रय केंद्रों पर अनियमितताओं का आलम यह है कि 10 तारीख गुजर गयी लेकिन अभी तक धान क्रय केंद्र चालू नहीं है और जो केंद्र चालू हैं उन केंद्रों पर बिचौलिए हावी हैं और किसानों का शोषण हो रहा है। वही भाजपा विधायक का अपनी ही सरकार में अव्यवस्थाओं व अधिकारियों के खिलाफ चार बजे तक चला यह धरना प्रदर्शन चर्चा का विषय बना हुआ है।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *