बैसाखियों के सहारे सीएचसी

फारूख हुसैन

लखीमपुर खीरी/ जहां एक और केंद्र सरकार और राज्य सरकार हमारे स्वास्थ्य महकमा को सुधारने पर लगे हैं कि किसी तरह भी स्वास्थ्य महकमा पूरी तरह से सुधर जाए और आमजन को राहत पहुंच सके ,लेकिन इसमें कितनी सच्चाई है और इसमें कितना काम जमीनी हकीकत बयां कर रहा है आप देख सकते हैं जी हां या तस्वीरें खुद एक सच्चाई बयां कर रही हैं और शर्मनाक स्थिति दिखा रही हैं।

ऐसा ही एक शर्मनाक मामला लखीमपुर खीरी जिले के मितौली सीएचसी का है जहां पर ग्रामीणों द्वारा एंबुलेंस सेवा को फोन करने के बावजूद भी अस्पताल में खड़ी एंबुलेंस ड्राइवर की लापरवाही के चलते घटना ग्रस्त घायलों को उपलब्ध नहीं हो सकी और घंटो मरीज रास्ते में तड़पता रहा जिसे देख कर आसपास के ग्रामीणों ने हमदर्दी जताते हुए एक ठिलिया पर घायलों को सीएचसी ले गए जहां पर उसका इलाज किया जा सका और उसकी जान बच सकी। अब सवाल यह उठता है कि स्वास्थ्य महकमा में कितना बदलाव आया है और वहां के स्वास्थ्य कर्मचारी हो या चिकित्सक उसमें कितना सुधार आया है और इस शर्मनाक मामले में आगे क्या कार्यवाही होगी या देखना होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *