धमकियों से प्रभावित नहीं होंगे, मिसाइल मामले में तो बिल्कुल ही नहीं! जनरल बाक़ेरी

आफ़ताब फ़ारूक़ी

‬: इस्लामी गणतंत्र ईरान की सशस्त्र सेना के प्रमुख ने कहा है कि सशस्त्र सेना दुश्मनों के विभिन्न षडयंत्रों का डट कर मुक़ाबला करने के लिए पूरी तरह से तैयार है और किसी भी दशा में अपने रक्षा व क्षेत्रीय हितों के मामले में एक क़दम भी पीछे नहीं हटेगा।

जनरल मुहम्मद बाक़ेरी ने गुरुवार को ईरान में अन्य देशों के सैन्य प्रतिनिधियों से एक भेंट में कहा कि ईरान की सशस्त्र सेना विश्व के सभी मित्र तथा शत्रुता न करने वाले देशों के साथ सैन्य सहयोग बढ़ाने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

उन्होंने कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान की सैन्य नीति, रक्षात्मक है और गत चालीस वर्षों के दौरान इस्लामी गणतंत्र ईरान की सभी सैन्य कार्यवाहियां , रक्षा के दायरे में रही हैं।

जनरल बाक़ेरी ने इस बात का उल्लेख करते हुए कि सशस्त्र सेना, हुरमुज़ स्ट्रेट और फार्स की खाड़ी पर नज़र रखती है और इस क्षेत्र की सुरक्षा के लिए किसी भी प्रकार की कार्यवाही में संकोच नहीं करेगी कहा कि , सशस्त्र सेना ने यह साबित किया है कि वह क्षेत्रीय व अंतरराष्ट्रीय शांति के लिए तथा क्षेत्रीय जनता की मदद के लिए हर समय तैयार रहती है।

उन्होंने कहा कि इस्लामी गणतंत्र ईरान ने क्षेत्र में आतंकवाद से मुक़ाबले के लिए अपनी क्षमताओं का प्रयोग किया और इराक़ व सीरिया में सैन्य सलाहकार भेज कर और शहीदों का बलिदान देकर पश्चिमी एशिया ही नहीं मानवता की बड़ी सेवा की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *