बालू खनन का विरोध कर रहे विधायक का धरना डीएम के आश्वासन पर हुआ समाप्त

सरताज खान

गाजियाबाद लोनी। ट्रॉनिका सिटी थाना क्षेत्र के पचायरा (बदरपुर) गांव के पास यमुना किनारे अवैध बालू खनन का विरोध कर रहे विधायक का धरना डीएम के आश्वासन पर समाप्त हुआ। डीएम ने जांच कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद खनन कारोबारियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया है। ट्रॉनिका सिटी थाना क्षेत्र के बदरपुर गांव में रविवार रात 10 बजे क्षेत्रीय विधायक नंद किशोर गुर्जर के अचानक  यमुना खनन स्थल पर पहुंचने पर रेत खनन करने वालों मे हडकंप मच गया था। आरोप है कि कुछ खनन कारोबारियों ने उनके काफिले के आगे ट्रेक्टर लगाकर रास्ता बंद कर दिया था। काफिले पर फायरिंग भी की गई थी। जबकि वहां मौजूद 35-40 युवक मौके से भागने में कामयाब हो गए थे। विधायक के समर्थकों ने हिरासत में लिए युवक की स्कार्पियों कार को वहीं खड़ा कर लिया था। घटना की सूचना पुलिस को दी गई थी। सूचना पर क्षेत्राधिकारी राजकुमार पांडेय और ट्रॉनिका सिटी थाना प्रभारी निरीक्षक सुभाष कुमार सिंह मौके पर पहुंचे थे। घटना से गुस्साएं और खनन पर हो रही अनियमिततांए देखकर विधायक वहीं धरने पर बैठ गए थे।

सोमवार सुबह करीब 11 बजे विधायक से वार्ता करने उपजिलाधिकारी आदित्य कुमार प्रजापति, क्षेत्राधिकारी और खनन अधिकारी मौके पर पहुंचे। क्षेत्राधिकारी ने जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी से विधायक की फोन पर वार्ता कराई। जिलाधिकारी ने जांच कराने का आश्वासन दिया।  विधायक ने उन्हे बताया कि खनन कारोबारियों द्वारा यमुना के मध्य में नांव से खनन किया जा रहा है जोकि एनजीटी के आदेशों का उलंघन हैं। उन्होंने जांच के लिए कमेटी गठित करने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन दिया। जिसपर विधायक ने धरना समाप्त कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *