मारिशस स्थति विश्व हिंदी सचिवालय के महासचिव प्रो विनोद मिश्रा का गाजीपुर हुआ आगमन, वृक्षारोपण कर पर्यावरण हेतु दिया सन्देश

विकास राय

गाजीपुर। मॉरीशस में स्थित विश्व हिंदी सचिवालय में महासचिव के पद पर तैनात विनोद मिश्र का आगमन  शिक्षण संस्थान सत्यदेव ग्रुप ऑफ कॉलेजेज के कैंपस में हुआ। जहां पर प्रोफेसर विनोद मिश्र ने शिक्षण संस्थान के प्रबंध निदेशक डा. सानंद सिंह के साथ पौधरोपण करते हुए पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने का संदेश दिया।

इससे पहले डा. सानंद सिंह विश्व को पर्यावरण असंतुलन से बचाने के बाबत आयोजित सेमिनार में बैंकॉक गए थे। जहां पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विभिन्न देशों से पहुंचे लोगों ने संतुलित पर्यावरण के साथ विकास के मुद्दे पर बेहतरीन सुझाव दिए थे। आज विश्व हिंदी सचिवालय मॉरीशस से गाजीपुर के सत्यदेव ग्रुप आफ कॉलेजेज में पधारे प्रोफेसर विनोद मिश्र ने साबित कर दिया कि यह शिक्षण संस्थान अब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना चुका है।

उन्होंने कहा कि यह शिक्षण संस्थान आने वाले समय में विश्व शिक्षा के केंद्र के रूप में जाना जाएगा। यहां का कैंपस हरा भरा है। जहां एक तरफ विज्ञान तकनीकी आदि की शिक्षा दी जाती है, वही दूसरी तरफ चिकित्सा शिक्षा की भी सुविधा मुहैया कराई गई है। यह शिक्षण संस्थान एक लघु विश्वविद्यालय के रूप में विकसित हो रहा है।

हम स्वयं मारीशस से शिक्षण संस्थान के प्रबंध तंत्र को बधाई देने आए हैं। भविष्य में मारीशस और सत्यदेव ग्रुप आफ कॉलेजेज के बीच बेहतरीन संबंध स्थापित किए जाएंगे। विश्व हिंदी सचिवालय के महासचिव प्रोफेसर विनोद मिश्र ने डा. सानंद सिंह को मारीशस आने का निमंत्रण भी दिया। डा विनोद मिश्र का सत्यदेव ग्रूप्स आफ कालेजेज गाजीपुर में पहुंचने पर सभी के द्वारा माल्यार्पण एवम बुके भेंट कर स्वागत किया गया।डा प्रिती सिंह निदेशक सत्यदेव ग्रूप्स के द्वारा कालेज की डायरी, टेबल डायरी, एवम डा सानन्द सिंह के द्वारा अंग वस्त्रम् एवम स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। इस अवसर पर दिग्विजय उपाध्याय. डा तेज प्रताप सिंह, डा सुनील कुमार सिंह, अमित रघुवंशी, राम जी गिरी, कृष्णा यादव समेत अन्य लोग उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *