बलिया जनपद के प्रमुख समाचारों पर एक नज़र अरविन्द यादव के संग

क्या दहेज़ की खातिर चढ़ा दिया है लोभियों ने विवाहिता की बली ?

 (बलिया) सहतवार  क्षेत्र के ग्राम सभा बघाँव मे दहेज के लिए एक लड़की को मारकर फेकने का मामला प्रकाश में आया लड़की के पिता द्वारा लड़की को मारकर लाश गायब करने की तहरीर सहतवार थाने में दी गयी है। पुलिस तहरीर लेकर मामले की छानबीन शुरु कर दी है।

सहतवार थाना क्षेत्र के कुशहर निवासी श्रीकृष्णकुमारवर्मा पुत्र स्व सियारामवर्मा ने सहतवार थाने मे तहरीर दी है। कि मै गुड़िया वर्मा 28वर्ष की शादी 2012मे हिन्दू रिती रिवाज के साथ सम्पन्न हुआ था सहतवार थाना क्षेत्र के बघाँव निवासी लक्षेमणवर्मा पुत्र इन्द्रासनवर्मा से 24- 6- 2012 को हिन्दू रिति रिवाज के साथ किया था। जिससे दो लड़के अंजनी व आदर्श है।सहतवार ( बलिया) । क्षेत्र के ग्राम सभा बघाँव मे दहेज के लिए एक लड़की को मारकर फेक दिये का मामला प्रकाश मे आया है। लड़की के पिता द्वारा लड़की को मारकर लाश गायब करने की तहरीर सहतवार थाने मे दे दी गयी है। पुलिस तहरीर लेकर मामले की छानबीन शुरु कर दी है।

सहतवार थाना क्षेत्र के कुशहर निवासी श्रीकृष्णकुमारवर्मा पुत्र स्व सियारामवर्मा ने सहतवार थाने मे तहरीर दी है। कि मै गुड़िया वर्मा 28वर्ष की शादी सहतवार थाना क्षेत्र के बघाँव निवासी लक्षेमणवर्मा पुत्र इन्द्रासनवर्मा से 24- 6- 2012 को हिन्दू रिति रिवाज के साथ किया था। जिससे दो लड़के अंजनी व आदर्श है। शादी के दो वर्ष बाद से ही मोटरसाईकिल के लिए गुड़िया को हमेशा मारता पीटता रहता था।

फिर अप्रैल 2017 को मेरी लड़की रानी वर्मा को बहला फुसला कर चैनरामबाबा के मन्दल मे शादी कर लिया। और मेरी लड़की गुड़िया को मारपीटकर मायके मे छोड़कर भाग गया। जिसके सम्बन्ध मे दामाद लक्ष्मणवर्मा व अन्य के खिलाफ सहतवार थाने मे मुकदमा पंजीकृत जिसकविगत छठ पूजा के दो दिन पूर्व मेरी लड़की गुड़िया अपने बच्चो से मिलने व छठ पूजा करने गयी तो उस समय सब ठीक ठाक रहा, परन्तु लक्ष्मण वर्मा गुड़िया को रखना नही चाहता था इस स्थिति मे गुड़िया को मारपीटकर छत से धक्का दे दिया। जिससे उसको गम्भीर चोटे आयी और बेहोश हो गयी। गाँव वालो के कहने पर वह मजबूरी वश ईलाज के लिए वाराणसी ट्रामा सेन्टर ले गया। डाक्टर द्वारा आपरेशन के लिए कहने पर वापिस अपने गाँव बघाँव लेकर चला आया। मै अपने गाँव के लड़के दीपक के साथ 3- 12- 2019 को डुड़िया से मिलने बघाँव गया तो गुड़िया बेहोश थी। 4- 12- 2019 को लक्ष्मण के पिता गाँव आकर बोले कि जो केश किये हो समझौता कर लो नही तो ठीक नही होगा। मै 5- 12- 2019 को बघाँव गया तो लड़की गुड़िया 28 वर्ष का पता नही चला। वे लोग भी महत्वपूर्ण घर मे ताला लगाकर गायब थे। गाँव वालो से पता चला कि लड़की मर चुकी है।

जिला समाज कल्याण अधिकारी के आदेश पर छात्रवृत्ति घोटाले में हुई ऍफ़आईआर दर्ज

(बलिया) बेल्थरा रोड शिक्षा क्षेत्र सीयर  के दशरथ इंटर कालेज के प्रबंधक व प्रधान लिपिक के खिलाफ छात्रवृत्ति व अभिलेखीय साक्ष्य के मामले को लेकर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

मिलीं जनकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि जिला समाज कल्याण अधिकारी की शिकायत पर गठित समिति में उप जिलाधिकारी,पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी,जिला विद्यालय निरीक्षक के प्रतिनिधि ने संयुक्त रूप से विद्यालय की जांचोपरांत रिपोर्ट दिया है कि जांच टीम के द्वारा विद्यालय पर पहुंचने पर पाया कि विद्यालय में दो मंजिला भवन है।जिसके ऊपरी मंजिल पर एम बी बी एस महाविद्यालय लिखा हुआ। जबकि जमीनी की सतह पर इंटर कॉलेज है।विगत 15 मार्च 2015 को खसरा नंबर 345 मृतक शिव शंकर के स्थान पर दशरथ उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खैरा खास के प्रबंधक केदार यादव का नाम दर्ज है तो वही खसरा नंबर 346 पर 11अक्टूबर 2012 को मंजू देवी पत्नी विरेंद्र यादव व बासमती खैराखास (मधुबनी)के नाम दर्ज है। जो संदर्भित विद्यालय के नंबर हैं।

जबकि महाविद्यालय के लिए संबद्धता समिति की स्वीकृति एवं कुलपति के आदेशानुसार कार्यपरिषद की संस्तुति के प्रत्याशा में विश्वविद्यालय की  परनियम की धारा (12) क 30 के अनुसार महाविद्यालय के सत्र 2017-18 से महाविद्यालय में प्रवेश प्रतिबंधित किया गया है। वही द्वितीय वर्ष के छात्रों को निकट महाविद्यालय में प्रवेश की अनुमति प्रदान की गई है।संयुक्त शिक्षा निर्देशक आजमगढ़ मंडल आजमगढ़ के पत्र दिनांक 5 अगस्त 2017 को प्रबंधक द्वारा दशरथ इंटर कालेज ने कूट रचित अभिलेखों के आधार पर मान्यता लेने संबंधी सुनवाई दिनांक 10 अप्रैल2017 व 15 मई 2017 को पक्ष प्रस्तुत करने हेतु तिथि निर्धारित की गई थी परंतु प्रबंधक द्वारा प्रतिभाग नहीं किया गया और न ही कोई साक्ष्य प्रस्तुत किया गया।जबकि विभिन्न वर्ग में जनपद में भेजी गई छात्रवृत्ति के संबंध में संबंधित विद्यालय द्वारा जिला सहकारी बैक बेल्थरा रोड में खाता खुलवाया गया।जिसमें छात्रों के पता के स्थान पर दशरथ इंटर कालेजअंकित किया गया है।जांच टीम ने पाया कि बैंक व विद्यालय की मिलीभगत से ऐसा हुआ है। इसी क्रम में बैंक के तत्कालीन प्रबंधक रियाजुद्दीन अंसारी व कैशियर हीरामन राम के विरोध बैंक के जिला सचिव के द्वारा मुकदमा दर्ज कराया गया है वही निलंबित किया गया है। जांच टीम ने पाया कि प्रबंधक द्वारा बड़े पैमाने पर धनराशि का दुरुपयोग किया गया है।जिसमे जिला समाज कल्याण अधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर जांच टीम ने वीरेंद्र कुमार यादव ग्राम प्रधान व दशरथ इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य उनके सहयोगी प्रधान लिपिक ने टीम को साक्ष्य प्रस्तुत न कर भागने में सफल रहे।

टीम ने समाज कल्याण अधिकारी के रिपोर्ट आधार पर पायी गई सत्यता के आधार पर उभाव पुलिस को रिपोर्ट दिया। जिसमें पुलिस ने भा०द०वा० की धारा 419,420,467,468,471व409 मुकदमा पंजीकृत किया गया है ।

डीएम ने किया जनशिकायतों की समीक्षा बैठक

(बलिया) जिलाधिकारी श्रीहरि प्रताप शाही ने कलेक्ट्रेट सभागार में गुरुवार को हुई जनशिकायतों की समीक्षा बैठक में अधिकारियों के पेंच कसे। उन्होंने कहा कि खासकर संपूर्ण समाधान दिवस व जनता को राहत पहुंचाने से जुड़े मामलों को गम्भीरता के साथ लें। डिफाल्टर श्रेणी में शिकायत का जाना ही अधिकारियों की लापरवाही पुष्ट कर देगी। स्पष्ट किया कि जिनकी शिकायत डिफाल्टर होगी, उनकी जवाबदेही तय की जाएगी और लापरवाही मिली तो कार्रवाई भी होगी।

कलेक्ट्रेट के विभिन्न टेबल के लिपिकों को चेताया कि पेंशन, विभागीय कार्यवाही, अभिलेखों के रखरखाव व रिपोर्टिंग जैसे मामलों में अपनी जिम्मेदारी समझें। ऐसा नहीं करें कि निलंबन की स्थिति का सामना पड़े।

बैठक में जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों से कहा कि डाक पहुंचने का इंतजार नहीं करें, बल्कि पोर्टल की जांच हर रोज कर लें। वहीं से शिकायत का प्रिंट निकालकर जांच करवाएं और निस्तारित कर ऑनलाइन रिपोर्ट भी कर लें। इससे जांच के लिए भी पर्याप्त समय मिल जाएगा और निर्धारित समय में शिकायतों का निस्तारण भी हो जाएगा।

आर्थिक मदद से सम्बंधित 58 मामले डिफाल्टर होने पर जिलाधिकारी ने सवाल किया। कहा, इन मामलों का लम्बित होना अत्यंत आपत्तिजनक है। सम्बंधित अधिकारी सचेत हो जाएं। बैठक में एडीएम राम आसरे, एसडीएम सिकंदरपुर अन्नपूर्णा गर्ग, एसडीएम रसड़ा विपिन जैन, एसडीएम सदर अश्विनी श्रीवास्तव, एसडीएम बेल्थरा राजेश यादव, ईडीएम अभिजात सिंह आदि मौजूद थे।

लागू हुआ जनपद में धारा 144

(बलिया) जनपद के सीमा के अंदर  निवास करने वाले तथा आने जाने वाले समस्त व्यक्तियों के लिए 04 से 31 दिसंबर तक धारा 144 लागू कर दिया गया है।

अपर जिला मजिस्ट्रेट रामआसरे ने कहा है कि जनपद सीमा के अंतर्गत किसी भी सार्वजनिक स्थान पर पांच या पांच से अधिक व्यक्ति एक समूह के रूप में एक साथ एकत्रित नहीं होंगे और न ही कोई जुलूस निकालेंगे और न ही कोई ऐसा अफवाह फैल आएंगे जिससे शांति व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव पड़े। विशेष परिस्थितियों में जुलूस आदि के लिए सक्षम अधिकारी से पूर्व अनुमति प्राप्त किया जाना अनिवार्य होगा।

यह प्रतिबंध परंपरागत सामाजिक या धार्मिक संस्कारों एवं रीति रिवाज तथा जुमे की नमाज पर लागू नहीं होगा। कोई भी व्यक्ति किसी सार्वजनिक स्थान मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च, सड़क मकान के अंदर अथवा छत पर ईट, पत्थर, शीशा, बोतलें व कांच के टुकड़े तथा विस्फोटक आदि न एकत्र करेंगे और न ऐसा करने के लिए किसी अन्य को प्रेरित करेगा।  कोई भी व्यक्ति सांप्रदायिकता भड़काने वाले पोस्टर, बैनर, कटआउट आदि न  तो लगाएगा और कोई भी व्यक्ति अफवाह अथवा ऐसा नारा नहीं लगाएगा और न ही ऐसा पर्चा छापेगा और बटवायेगा जिससे किसी वर्ग विशेष की भावना को ठेस पहुंचे और किसी प्रकार की सार्वजनिक संचार व्यवस्था साधन तथा मार्ग पर अवरोध उत्पन्न करेगा और न ही ऐसा करने के लिए किसी अन्य को प्रेरित करेगा। कोई भी व्यक्ति सड़क जेल मार्ग कार्यालय पेट्रोल पंप आदि का घेराव नहीं करेगा न ही यातायात के आवागमन में अथवा किसी प्रकार के सार्वजनिक संचार आदि में अवरोध उत्पन्न करेगा। कोई भी व्यक्ति मार्केट, दुकान प्रतिष्ठान, कार्यालय, पेट्रोल पंप आदि को न बंद करायेगा न ही किसी सरकारी संपत्ति को क्षति तोड़फोड़ आदि करेगा पुतला नहीं जलायेगा और भाषण या नारा नहीं लगाएगा न ही इस प्रकार का प्रचार-प्रसार करेगा जिससे कि जन भावनाओं को ठेस पहुंचे। किसी प्रकार के आग्नेयास्त्र को किसी प्रकार के आयोजित होने वाले समारोह में उपयोग नहीं करेगा। उक्त आदेश का उल्लंघन भारतीय दंड विधान की धारा 188 के अंतर्गत दंडनीय अपराध होगा।

उपसभापति का आगमन आज

बलिया। उपसभापति, राज्यसभा हरिवंश का आगमन जनपद में 06 दिसंबर को हो रहा है। उपसभापति जी 07 दिसंबर को सुबह 07:30 बजे ग्राम सिताब दियर में स्थानीय कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे।

बलिया पुलिस ने पकड़ी 12 लाख की अवैध शराब

बिल्थरारोड : बलिया उभाँव पुलिस ने विगत कई दिनों से हरियाणा व पंजाब प्रांत से अवैध अंग्रेजी शराब लाकर यूपी बिहार बॉर्डर के जनपदों में तस्करी कर राज्य सरकार को भारी क्षति पहुंचाने की सूचना प्राप्त हो रही थी जिसके संबंध में मुखबिर को लगाया गया था मुखबिर द्वारा सूचना दी गयी की दिनांक 04/12/2019 को पंजाब से लायी जा रही एक ट्रक में शराब भरकर उत्तर प्रदेश के देवरिया जनपद के सलेमपुर कस्बे में ले जायी जा रही है ।

उक्त सूचना पर एसटीएफ लखनऊ द्वारा दिनांक 03/12/2019 को देवरिया पहुच कर मुखबिर से संपर्क किया गया तो मुखबीर द्वारा बताया कि कल दिनांक 04/12/2019 को लगभग 10:00 से 11:00 के बीच शराब लदी एक ट्रक आयेगी जिसके आगे-आगे एक सफेद रंग की स्कार्पियो चल रही होगी उक्त सूचना पर एसटीएफ प्रभारी लखनऊ अपनी टीम के साथ नवलपुर चौराहा सलेमपुर आकर ट्रक व स्कॉर्पियो का इंतजार करने लगे कुछ समय पश्चात कस्बा सलेमपुर की तरफ से एक ट्रक आता हुवा दिखायी दिया जिसके आगे-आगे एक सफेद रंग की स्कॉर्पियो भी चल रही थी उक्त वाहन को रोकने का प्रयास किया गया परंतु उक्त दोनों वाहन काफी तेज रफ्तार से सलेमपुर से बेल्थरा रोड जनपद बलिया की तरफ भागने लगे जिसके संबंध में एसटीएफ लखनऊ द्वारा प्रभारी निरीक्षक उभाव को जरी दूरभाष अवगत कराया गया व वाहन को रोकने के लिए बताया गया

प्रभारी निरीक्षक उभाव द्वारा तूर्तिपार पुल पर मय फोर्स की मदद से ट्रक संख्या MP09HG5160 को रोक लिया गया तथा ट्रक चालक को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया तो ट्रक चालक द्वारा अपना नाम गुरुप्रीत सिंह पुत्र नक्षत्र सिंह निवासी बड़ा थाना पड़ाव जिला अंबाला हरियाणा बताया गया ट्रक की तलाशी ली गयी तो ट्रक के अंदर लदी 1000 पेटी में 48000 शीशी निर्मित (HEAT PREMIUM WISKY, MINIMUM SEL PRICE, CONSUMPTION OF ALCOHOL IS INJURIOUS TO HELTH BE SAFE DON’T DRINK AND DRIVE DISTILED BLEMDED BOTLED BY CHANDIGARH DISTILLERS BOTTLERS LIMITED BANUR Distt. SAS NAGAR (MOHALI) PB (140601)  बरामद हुयी जिसके संबंध में थाना उभाव में अभियोग पंजीकृत कर अभियुक्त को चालान न्यायालय किया गया ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *