देखे कुख्यात विकास दुबे के गुर्गे का बयान – खोला ये राज़

आदिल अहमद/ मो0 कुमैल

कानपुर। कानपुर पुलिस के साथ मुठभेड़ में गिरफ्तार विकास दुबे का गुर्गा दयाशंकर अग्निहोत्री ने पुलिस के साथ पूछताछ में कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। दयाशंकर ने पुलिस को बताया है कि मुठभेड़ से पहले विकास दुबे को एक फोन आया था। उसने कहा है कि मुठभेड़ के दौरान विकास दुबे खुद बंदूक लेकर पुलिस पर फायरिंग कर रहा था। ये बंदूक दयाशंकर के नाम पर थी।

उगला राज़, कहा रेड से पहले विकास दुबे को आया था फोन

दयाशंकर ने बताया कि विकास दुबे ने 25 से 30 लोगों को बुलाया था, जिनके पास अवैध असलहे थे। दयाशंकर ने कहा कि पुलिस दबिश से पहले विकास के पास एक फोन आया था, जो कि थाने से भी हो सकता है। दयाशंकर ने बताया कि विकास दुबे के गुर्गों की बैठक गांव के पास एक बगिया में होती थी। विकास दुबे अपने साथियों को फोन कर बुलाता था।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक दयाशंकर ने कहा कि पुलिस रेड से पहले विकास के पास पुलिस स्टेशन से फोन आया था। इसके बाद विकास दुबे ने 25 से 30 लोगों को बुलाया। विकास ने खुद पुलिस वालों पर फायरिंग की। दयाशंकर की माने तो मुठभेड़ के वक्त आपाधापी में वो घर के अंदर बंद हो गया था इसलिए ज्यादा कुछ नहीं देख सका।

आज रविवार को तड़के एनकाउंटर के बाद हुआ गिरफ्तार

रविवार को तड़के एक एनकाउंटर के बाद पुलिस ने दयाशंकर को गिरफ्तार किया। कानपुर पुलिस ने बताया कि पुलिस टीम ने दयाशंकर को कल्याणपुर के जवाहर पुरम में घेरकर सरेंडर करने को कहा, लेकिन सरेंडर करने के बजाय दयाशंकर देशी तमंचे से पुलिस पर गोलियां लगा। इस दौरान पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की, दोनों ओर से हुई क्रॉस फायरिंग में दयाशंकर को पैर में गोली लगी इसके बाद वो घायल हो गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *